Friday, 18th August, 2017

मनमोहन को आया सपना, कहा कांग्रेस मुख्यालय के नीचे करीब १००० टन अक्ल गड़ी होने की संभावना

26, Dec 2013 By प्रदीपक पचौरसिया

दिल्ली : प्राप्त खबर के अनुसार बताया जाता है की बाबा मनमोहन सिंह जी को कल रात “राजीव गाँधी मुफ्त के सपने” योजना तहत एक सपना आया जिसमे स्वयं श्री. राजीव गाँधी जी ने उन्हें दर्शन देते हुए कहा की कांग्रेस मुख्यालय के निचे करीब १००० टन अक्ल गडी हुई है और वो चाहते हैं की ज़मीन से बीस मीटर नीचे गड़ी ये अक्ल खोदकर निकाली जाये और इसका उपयोग किया जाये।

Manmohan Singh
मनमोहन सिंह खुशी का इज़हार करते हुए.

साथ ही साथ उन्होंने ने ये भी बताया की इस अक्ल का इस्तेमाल उनके ज़माने में ना हो पाने की वजह से इसमें थोड़ा जंग भी लगा हो सकता है, हालांकि उन्होंने ने विस्तार से बताते हुए बाबा मनमोहन जी को ये भी बताया की ये अक्ल पुर्णतः वाटरप्रूफ और डस्टप्रूफ है।

सूत्रों के हवाले से पता चला है की भोर होते ही बाबा मनमोहन जी ने सुश्री सोनिया देवी जी की अनुमती से एक कमेटी का गठन कर मुख्यालय की ज़मीन का जियोलाजिकल सर्वे करवाया जिसमे उन्होंने ने किसी ठोस और मजबूत चीज़ के अंदर गड़े होने की पुष्टि की गयी है तथापि जियोलॉजिकल सर्वे वालों ने ये सलाह भी दी है की वैसे भी पिछले कुछ सालों से ये माना जाता है की अब मुख्यालय २०१४ के बाद धर्मशाला ही बनने वाला है तो अगर इसे गिरा कर कुछ अक्ल मिल जाये तो क्या बुरा है? और उनका मानना भी यही है की कॉंग्रेसियों को अक्ल या तो कॉंग्रेस गिरने पर मिलेगी या कॉंग्रेस मुख्यालय।

श्री श्री १०८ बाबा चुप्पीनाथ महाराज मनमोहन सिंह जी ने हामी भरते हुए खुदाई के काम को अपना समर्थन दिया है तथापि इस अक्ल को लेकर कांग्रेस के कई लीडरों में जबरदस्त तनाव देखा जा रहा है और इसी वजह से दिल्ली में चुनाव हारने तक की नौबत आ गयी, जब हमने फेकिंग न्यूज़ की ओर से कांग्रेस के आला लीडरों से बात की, आइये देखते हैं उनका क्या कहना है।

राहुल बाबा का कहना है “मम्मी का कहना है की २०१४ में मुझे प्रधानमंत्री बनना है और मैं सिर्फ बोर्नवीटा पर ही निर्भर नहीं रहना चाहता एंड यू कैन नोट इवन इमेजिन वो अक्ल मेरे लिए कितनी ज़रूरी है और वैसेभी पापा जी के बाद उसपर मेरा हक बनता है”।

वहीं दिग्विजय सिंह ने कहा है की “मैंने अपनी पूरी ज़िन्दगी कांग्रेस पर न्योछावर कर दी और इस नाते से उस अक्ल पर सिर्फ और सिर्फ मेरा हक बनता है”।

सलमान खुर्शीद जी ने कहा है “हमारी माँ ने कहा था की मुझे विदेश मंत्री भले ही बना दिया हो लेकिन मैं आंतरिक मामलों में भी हिस्सेदार हूँ और ये मामला मैं संभालूँगा, आई लव यू मम्मीजी”।

और जब हमने इस बारे में रोबर्ट वाड्रा जी से पूछा तो उन्होंने साफ़ शब्दों में बाकीओं के दावों को ख़ारिज करते हुए कहा है की “देखिये कोई कितना भी उछल कूद करले मुझे फर्क नहीं पड़ता, वो ज़मीन मेरे नाम पर है और वहां से जो कुछ भी निकलेगा उसपर मेरा हक होगा।” प्रियंका जी ने भी कहा है की उनका ही हिस्सा उन्हें मिलना चाहिए।

श्री श्री १०८ बाबा मनमोहन सिंह जी ने कांग्रेस लीडरों की इस तुच्छ सोच पर बेहद अफ़सोस जताते हुए कड़ी निंदा की है और कहा है की, ओह्ह माफ़ कीजिये मैं तो भूल ही गया की बाबा जी पिछले तीन हज़ार सालों से मौन हैं।

सूत्रों की सुने तो यह भी बताया जाता है की उस अक्ल का एक हिस्सा आम आदमी पार्टी वालों के हाथ “राजीव गाँधी चुनाव जीतने का चैलेंज करो” योजना के तहत काफी पहले लग चूका है। अब देखने लायक बात ये है की ये जखीरा कबतक बहार निकाला जा सकता है, और आख़िर कौन बनता है इसका वारिस। जानने के लिए पढ़ते रहें फेकिंग न्यूज़।

फेकिंग न्यूज़ के लिए राइटर कमलेश के साथ प्रदीपक पचौरसिया, दिल्ली।