Monday, 21st August, 2017

सि्टंग : सचिन से मिले कांग्रेसी,कहा कोलकाता टेस्ट में खेलो भारत निर्माण ड्राइव

05, Nov 2013 By सेकुलर शुकुल

टेस्ट से संन्यास लेने के बाद मध्य प्रदेश के विधानसभा चुनाव में सचिन तेंदुलकर कांग्रेस के लिए प्रचार करने या न करने के बारे में अभी कोई अधिकृत जानकारी नहीं आई है। लेकिन कांग्रेस के एक खेमे ने सचिन के सामने अजीबो गरीब मांग रख दी है।

Sachin Tendulkar
सचिन के सामने अजीबो गरीब मांग

पूरी दुनिया के निगाहें इसी समय ईडन गार्डेंस और वानखेंड़े पर जमी हुई हैं और क्रिकेट के भगवान को विदाई देने को तैयार हैं। लेकिन चुनावी झंझावात में उलझे कांग्रेस नेताओं को कुछ और ही सूझ रही है। सचिन से दो वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने कोलकाता में बेहद गोपनीय मुलाकात की।हमारे सूत्रों के पास उस बातचीत की वीडियो मौजूद है,लेकिन कैमरा एंगल ऐसा है कि नेताओं के चेहरे नहीं दिख रहे हैं। दो वरिष्ठ नेता सचिन से मिले और उनसे अनुरोध किया कि वे अपने कोलकाता टेस्ट में क्रिकेट का कोई नया शॉट ईजाद करें और उसका नाम भारत निर्माण शाट रख दें। पेश है पूरी बातचीत :

पहला नेता : हैलो,सचिन कैसे हो। ईडन गार्डेंस में शानदारी पारी के लिए एडवांस में बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

सचिन : मैं ठीक हूं सर,लेकिन इस समय आप यहां कैसे। कहीं आप मुझे राज्यसभा ले चलने के लिए तो नहीं आए हैं। इस समय मैं सिर्फ क्रिकेट एंज्वाय करना चाहता हूं।

दूसरा नेता: अरे नहीं सचिन,इस समय तो सेशन ही नहीं चल रहा है। हम तुमसे कुछ और बात करने आए हैं और वो बात सिर्फ और सिर्फ क्रिकेट से संबंधित है। तभी टीवी पर चल रहे किसी मैच के हाईलाइट को देखकर दूसरे नेता ने कहा अरे ये तो नो बाल थी।

सचिन:(थोड़ा मुस्कराकर) अरे नहीं सर ये नो नहीं वाइड बॉल थी,लेग स्टंप के बहुत बाहर थी। आप क्रिकेट पर बात करने आएं है,लेकिन लगता है कि आप को क्रिकेट में बिल्कुल इंटरेस्ट नहीं है।

पहला नेता: जी,जी ये थोड़ा क्रिकेट में कम दिलचस्पी रखते हैं,लेकिन इस बार बीसीसीआई में इन्हें कहीं सेट कराना है। सब जान जाएंगे।

सचिन: जी तो आप मुझे बताइये आप लोग क्यूं आएं हैं।

पहला नेता : सचिन दरअसल बात ये है कि हम चाहते हैं कि आप के पास जो चार पारियां बची हैं उनमें आप कोई अनोखा शॉट खेलें जो क्रिकेट की किसी किताब में दर्ज न हो और एक्सपर्ट को उसे कोई नया नाम देना पड़ जाए। हम चाहते हैं कि उस शॉट का नाम भारत निर्माण शॉट रखा जाए।

सचिन:(चौकते हुए) क्या बात कर रहे हैं आप ऐसा कैसे हो सकता है,आप लोगों की बात मानकर मैंने बिना बात वन डे से संन्यास ले लिया। और मैं कोई नया शॉट नहीं खेलने जा रहा। चारों पारियों में मेरी कोशिश होगी कि मैं बिल्कुल कॉपी-बुक स्टाइल वाली बैटिंग करूं।

दूसरा नेता: प्लीज सचिन एक नया शॉट तो आपको ईजाद करना पड़ेगा जैसा बॉलिंग में वो दूसरा, तीसरा क्या है। बाकी उसका नाम भारत निर्माण शाट रखवाने की जिम्मेदारी हम पर छोड़ दो।

(सचिन थोड़े तनाव में आ जाते हैं।) सचिन: अरे अजीब बात करते हो आप लोग। नए शॉटों के चक्कर में कितनी बार आऊट हुआ हूं मैं और फिर कोई नया शॉट लगाऊंगा तो उसका नाम भारत निर्माण क्यूं । वो तो कांग्रेस सरकार का एड कैंपेन हैं। भाई प्लीज, मैं बाडी लाइन अटैक वाली पॉलिटिक्स में यकीन नहीं करता।

पहला नेता: आप को क्या लग रहा है सचिन क्या हम सिर्फ पार्टी के चक्कर में आपसे ऐसा कह रहा है। आपका रिटायरमेंट भारत के इतिहास में दर्ज होगा। उदारीकरण और आपका करियर दोनों साथ -साथ चले। आपके आऊट होने के बाद करोड़ों टीवी सेट बंद हो जाते थे। कुछ तो फूट भी जाते थे। आप भगवान हैं,आप लीला करते रहें हैं। बीवी के झगड़ों और बॉस की डॉट फटकार से परेशान लोग आपका एक स्कवायर कट देखकर खुशी से नाचने लगते थे।

दूसरा नेता: जरा सोचिए इस समय इकॉनमी में मंदी है,लोगों को अपनी नौकरी की चिंता है,महंगाई इतनी है कि लोग टाटा स्काई रीचार्ज करा आपकी बैटिंग भी नहीं देख पा रहे हैं। ऐसे में आप ही थे जिसे देखकर लोग अपने गम भूल जाते थे। अब वे किसे देखेंगे। कमेंट्री में तो आपकी मजा नहीं आएगा। ऐसे में देश को कम से कम भारत निर्माण जैसा क्लासिक शॉट दे दीजिए। उसी के सहारे बहुत दिनों तक जनता बहलती रहेगी। आप शॉट लगा दो,उसे भारत निर्माण नाम हम दिला देंगे।

सचिन:(गुस्से में): खाक आप उसे भारत निर्माण शॉट नाम दिला दोगे। और देश की ये दशा खराब तो आपकी ही सरकार ने की है। आजकल कमेंट्री में जो कुछ भी नया नाम दे रहे हैं सिद्धू पा जी दे रहे हैं,उनका क्या भरोसा, वे कह दें कि सचिन के इस शॉट ने भारतीय क्रिकेट को सारी कमियों से मुक्त कर दिया है,सुनील ये कांग्रेस मुक्त भारत जैसा शॉट है।

दूसरा नेता : आप इसकी चिंता छोड़ो। आपके शाट पर पीएम साहब आपको बधाई देंगे और कहेंगे कि सचिन का ये शाट भारत निर्माण शाट है जो आने वाली पीढि़यों को भी प्रेरित करता रहेगा और देश की अर्थव्यवस्था को नई रफ्तार देगा। बस हो गया काम…टीवी…अखबार सब कहने लगेंगे भारत निर्माण शाट।

(सचिन बेहद तनाव में आ जाते हैं और गुस्से में रिमोट उठाकर टीवी बंद कर देते हैं क्योंकि उस समय भारत निर्माण वाला एड आ जाता है कि ,,,मीलों हमें जाना है।)

सचिन- जी,नहीं मुझे मीलों नहीं जाना है,मुझे सिर्फ दो टेस्ट और खेलने हैं। वो मुझे शांति से खेल लेने दीजिए। लता ताई का मैं इतना दुलारा हूं और वे नमों की तारीफ कर रही हैं। और आप लोग हैं कि ….मेरे पीछे पड़े हैं।

पहला नेता : सचिन जी आप राजनीति के कारण हिचक रहे हैं न। अरे आपने हमेशा सेकुलर क्रिकेट खेली है। हिंदू ,मुसि्लम,सिख,ईसाई सभी बालरों को पीटा है। ऐसे में आप लता ताई की चिंता क्यों करते हैं। आप भारत निर्माण शाट खेलो और अगर इससे थोड़ा पार्टी को फायदा हो जाता है तो क्या बुराई है,सर,आखिर आपको हमी लोगों ने राज्यसभा में नामिनेट किया है। ( अचंभित सचिन टीवी फिर आन कर लेते हैं और कामेडी नाइटस मे कपिल के जोक देखकर उनका मजाक का मूड बन जाता है।)

सचिन : देखिए सर ईमानदारी की बात तो ये हैं कि आपको फालोआन बचाने की चिंता करनी चाहिए और आप नए शाट की बात कर रहे हो। और हॉ एक और ईमानदारी भरी बात मेरे जैसा आदमी क्रिकेट के बगैर जिंदगी के बारें में बड़ी मुशि्कल से सोच पाता है। अगर मुझे लगता है कि अभी कुछ नए शॉट मेरे पास हैं तो मैं क्यों संन्यास ही लेता और आप लोगों से बातचीत मे इतना टाइम खोटी करने के बजाया भुवी की गेंदों पर नेट प्रैकि्टस कर रहा होता। जब नया शॉट ही नहीं है तो क्या भारत निर्माण शाट और क्या इंडिया शाइनिंग शाट। वैसे भी जिस तरह आप के विकेट गिर रहे हैं आप कोई नाइट वाचमैन ढूंढि़ए। भारत निर्माण ड्राइव के चक्कर में न पड़िए।

इसके बाद सचिन अपनी किट उठाकर ग्राउंड के लिए निकल गए। दोनों नेता काफी देर तक वहीं बैठ रहें। इसके बाद फुटेज खत्म हो गया।