Tuesday, 12th December, 2017

विजय मालिया अब बनेंगे संस्कारी, खोलेंगे किंगफिशर पूजा सामग्री का कारखाना

07, Mar 2016 By chachachaudhary

मशहूर उद्योगपति और बैंक डिफॉल्टर विजय मालिया ने अब सुधरने का फ़ैसला ले लिया है, उन्हे लगता है की अब धन दौलत, ऐश्वर्या और दिखावे को छोड़ कर कुछ समाज के लिए करना चाहिए. लंडन जाने की खबरो को उन्होने सिरे से झुठलाते हुए फेकिंग न्यूज़ को उन्होने बताया की उनकी देश छोड़ कर जाने की कोई इच्छा नही है क्यूंकी विदेशों मे भारत जैसे बेंक नही है.

संस्कारी माल्या की एक झलक
संस्कारी माल्या की एक झलक

अभी युनाइटेड ब्रेवेरिस की डील से जो उनहे 515 करोड़ रुपये मिले है उनसे वो सामाजिक और धार्मिक कार्य करेंगे, फिर अगर कोई बैंक अब भी उन्हे लोन देने को तैयार हो गया तब वो किंगफिशर अगरबत्ती और धूप की फॅक्टरी डालना चाहते है. वो चाहते है की अगर बैंक फिर से उनकी फैक्टरी खुलवा देती है तो पूरे समाज का फायेदा होगा. फिर जब उनका यह कारखाना चल निकलेगा तब वो सूद समेत सबका बकाया लौटा देंगे. बतौर ब्रांड अम्बासेदर आलोक नाथ जी को भी नियुक्त कर लिया है. उन्होने बताया की उनकी क्रिकेट टीम का कप्तान विराट भी तीस साल के बाद उनके ब्रांड का प्रमोशन करने को तैयार है.

उन्होने ब्रांड प्रमोशन का पूरा प्लान फेकिंग न्यूज़ से शेयर किया. उन्होने बताया की किंगफिशर कैलेंडर की बजाए वो इस बार किंगफिशर पांचांग निकलांगे, हर महीने अलग अलग संतो की तस्वीर और पीछे के पन्नो पर अध्यमिक सीख, व्यसन मुक्ति, सरल जीवन, मोह माया का त्याग जैसी उपदेश होंगे. किंगफिशर अन्थेम की जगह अब भजन कीर्तन की सी. डी. निकाली जाएगी.

उन्होने पब्लिक सेक्टर बैंक एस. बी. आई और पी. एन. बी जैसे बैंको को यह सलाह दी है के किसी व्यक्ति की चका-चौंध से मंत्रमुग्ध हो कर किसी को भी लोन ना दिया करे. और जो बैंक्स उनके लोन को ले के चिंता मे है, किंगफिशर पूजा सामग्री से उनके मान को भी शांति पहुँचेगी.

उन्होने यह भी बताया की ब्रांड प्रमोशन के दूसरे चरण मे वो युवक जो तंबाकू और शराब के आदि है उनके लिए शिविर चलाएँगे. उनके बेटे के बारे मे भी उन्होने बताया की अगर उनका बेटा हॉलीवुड मे हीरो ना बन पाया तो उसे भी वो भारत बुला के अपने नये किंगफिशर अगरबत्ती के कारखाने मे लगा देंगे.