Monday, 20th November, 2017

UPSC टॉपर ने किया खुलासा, नहीं पास कर पाये SSC की परीक्षा इस बार

10, Nov 2014 By Golden Tooth

दिल्ली: UPSC कि सिविल सर्विस परीक्षा-2013 में पहला स्थान प्राप्त करने वाले गौरव अग्रवाल ने आज एक चौंकाने वाला खुलासा किया है की वे हाल ही में समपन्न हुई SSC-CGL-2013 परीक्षा को पास करने में असफल रहे हैं|

Tadapit.
गौरव अग्रवाल

फेकिंग न्यूज़ से एक्सक्लूसिव साक्षात्कार में उन्होंने कहा, “मैंने यह परीक्षा शौकिया तौर पर दी थी| में इस परीक्षा को हमेशा आसान मानता था| इस बार भी में 422 (600 में से) लेकर अच्छा स्थान पाने की आशा कर रहा था| परन्तु 424 की कटऑफ देख मेरे तो होश ही उड़ गए| जहाँ पिछले साल इतने नंबर लेकर प्रतिस्पर्धी, टॉप कर सकता था,  वह इस इस साल का पास करने का मिनिमम अंक है| शायद इस साल बहुत ज़्यादा इंटेलीजेंट लोगों ने पेपर दिया है| भगवान का शुक्र है इन लोगों ने UPSC की परीक्षा नहीं दी नहीं तो मेरा पत्ता कट जाता|”

गौरव अग्रवाल ने IIT, CAT, IAS जैसी कठिन परिसखायों में पहले बेहतरीन सफलता पा चुके हैं, परन्तु इन सब से आसान माने जाने  वाली  SSC की  परीक्षा में उनका सफल न हो पाना एक पहेली सा जान पड़ता है|

गौरतलब है की यह परीक्षा पिछले साल पर्चा लीक होने के कारण रद्द हो गयी थी| इस साल के re-exam के दौरान भी कई लोगों को नक़ल करते पकड़ा गया है, जिनका कहना है की उनके पास पहले से प्रश्न पत्र थे|

फेकिंग न्यूज़ की टीम ने सफल हुए रहस्यमयी परीक्षारती में से  कुछ  को हरयाणा के रोहतक ज़िले में ढून्ढ निकला| हालाँकि उन सब ने रिपोटर मिलने से मना कर दिया| पड़ोस में पूछने से पता चला की वो सब पहलवान है और गुडगाँव में बाउंसर का काम करते हैं|

हालांकि SSC के एक प्रवक्ता ने परीक्षा में धांदलेबाज़ी की अटकलों को सिरे से खारिज कर दिया| उन्होंने अख़बारों में छपी ख़बरों को मनघँडत करार कर दिया| एवरेस्ट नुमा कटऑफ का श्रेय उन्होंने बढ़ती स्पर्धा और कोचिंग को दिया|

हालाँकि जब उनसे जब यह पुछा गया  की किस तरह गौरव अग्रवाल और उन जैसे कई उद्यमी परीक्षार्थी इतने व्यापक स्तर पर परीक्षा क्लियर कर पाये तो उनका जवाब चौंकाने वाला था| उन्होंने कहा की “SSC एक ऐसी परीक्षा है जिसमें luck का साथ देना भी आवश्यक है| आपको कई ऐसे प्रतिभागी भी मिलेंगे जिन्होंने स्कूल, कॉलेज और कोचिंग में कभी अच्छा न किया हो, परन्तु SSC की परीक्षा के दिन वो अचानक शान दार प्रदर्शन कर देते हैं| आपने वो कहावत तो सुनी ही होगी-अल्ला मेहरबान तो गधा पहलवान”।

सूत्रों के अनुसार प्रवक्ता  ब्लूटूथ तकनीक को श्रेया देना भूल गए जिसने की कई परीक्षार्थियों के चमत्कारी प्रदर्शन में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभायी|

Topics:#Exam #Scam #SSC