Sunday, 24th July, 2016

कुक की पारी के बाद भारतीय टीम परेशान

19, Nov 2012 By Sandeep Kadian

चौथे दिन का खेल ख़त्म होते होते इंग्लेंड ने ना केवल पारी से हार बचा ली बल्कि 10 रन की बढ़त भी ले ली भारत से. दो दिन से उपर लगातार क्षेत्ररक्षण करने के बाद भारतीय खिलाड़ी थोड़े थके थके नज़र आए. इसके बाद ड्रेसिंग रूम मे उनके बीच क्या बात हुई, आइए देखते हैं…

सहवाग: यार ये बॉल क्यों घूमनी बंद हो गई

अश्विन: वीरू भाई सही बताऊं तो बॉल तो पहली पारी मे भी ज़्यादा नहीं घूम रही थी, बस इंग्लेंड के बल्लेबाज़ बॉल के आगे पीछे घूम रहे थे

यादव: DRS Technology होती तो शायद एक दो विकेट और मिल जाते

कोहली: क्या यादव, e-mail खोलनी आती नहीं, Technology की बात करता है

धोनी: क्यों बहस कर रहे हो यार, वो BCCI का निर्णय है

ज़हीर: धोनी ठंडा ठंडा लग रहा है, घटिया विकेट-कीपिंग का असर?

सहवाग: (ठहाका लगाते हुए) हाँ लग रहा है कि ये कामरान अकमल विकेट-कीपिंग स्कूल से coaching ले कर आया है

धोनी: यार कोई कोहली जैसा बोले तो ही ठीक है, तुम बोल रहे हो? और ज़हीर आधी energy तो मेरी तुझे छुपाने मे चली जाती है मैदान मे.

युवराज: लेकिन माही तूने मुझसे ज़्यादा बोलिंग क्यों नहीं करवाई, विकेट लिए थे इंग्लेंड के खिलाफ अभ्यास match मे

धोनी: विकेट तो यार अश्विन ने भी लिए थे और उसने तो पहली पारी मे ही लिए थे, अब देख. पेट भर के ओवर करा चुका है लेकिन विकेट एक नहीं

अश्विन: वो कुक नहीं आउट हो रहा बस, वो आउट हो जाए तो बाकी को देख लूँ

भज्जी: नाम अजीब है ना वैसे बंदे का, कुक.. पूछना पड़ेगा की ये कुक बटर चिकन बनाता है या नहीं

सहवाग: भज्जी Non-veg बातें मत कर, यहाँ कहीं किसी का बलात्कार ना हो जाए

धोनी: बस कल हमारा बलात्कार ना हो जाए, अगर यहाँ से इंग्लेंड मॅच ड्रॉ करवा गया तो बहुत बे-इज़्ज़ती होगी

कोहली: धोनी लेकिन कल ओपनिंग कौन करेगा अब, गौती तो यहाँ नहीं है

धोनी: वो द्रविड़ बैठा Commentary दे रहा है, उससे बात कर लूँ?? लेकिन ओपनिंग तो कोई तब करेगा ना जब ये कुक आउट होगा

ओझा: चिंता मत कर माही, कल इस कुक को ही पकाऊँगा और जल्दी पकाऊँगा

धोनी: सही है ओझा, अब तू ही उठा गेंदबाज़ी का बोझा

और फिर सब ओझा की पीठ थपथपाते हुए ड्रेसिंग रूम से बटर चिकन खाने चले गये

Sandeep Kadian