Monday, 25th September, 2017

सास की बुराइयां करते अगल-बगल ट्रेडमिल पर घंटों दौड़ती रहीं दो महिलाएं, घटाया 5-5 KG वज़न

08, Jun 2016 By Pagla Ghoda

नासिक: शहर के ‘ब्लू गोल्ड’ जिम में उस समय हाहाकार मच गया, जब सारिका और युविका नाम की दो महिलाओं ने ट्रेडमिल पर लगभग चार घंटे बिना रुके दौड़कर एक ही दिन में पांच-पांच किलो वज़न घटा लिया। शहर के जाने माने डॉक्टर जहाँ इसे मेडिकल साइंस का एक चमत्कार मान रहे हैं, वहीँ मौके पर मौजूद जिम करते लोगों के अनुसार इन महिलाओं को आपस में बतियाते हुए समय का पता ही नहीं चला, अन्यथा उन्हें आजतक चार घंटे तो क्या चार मिनट भी ट्रेडमिल पर नहीं देखा गया है।

Treadmill
ट्रेडमिल पर सास के नाम पर पसीना बहातीं सारिका और युविका

जिम में रोज़ाना साढ़े चार घंटे बिताने वाले युवक परेश अम्बरसरिया ने अपनी एब्स दिखते हुए बताया, “सरजी देखो, हम तो यहाँ बॉडी बनाने आते हैं। वेट उठाते हैं, डंबल मारते हैं, और निकल लेते हैं। आजतक एक लफ्ज़ नहीं बोल होगा किसी से! लेकिन इन दो लेडीज लोग ने तो हद्द ही पार कर दी जी आपस में बतियाने की। कई घंटे तक दोनों मैडम ट्रैडमिल पर दौड़ती रहीं और अपनी सासों की जमकर बुराई करती रहीं।”

“सासों पर बात ख़त्म हुई तो जी इन्होंने पतियों की बुराई शुरू कर दी। फिर क़रीब एक घंटा महंगाई और मोदी को भी कोसा। हम तो वहीं साइड में डंबल मार रहे थे तो सुन रहे थे। क्या करें! कान हैं तो कान में तो बात जाएगी ही अपने आप। बस बातें करती रहीं दोनों, और दौड़ती रहीं। बीच में एक आध लोगों ने ट्रेडमिल खाली करने को कहा तो उन्हें भी डपट के भगा दिया। टोटल देखिए चार घंटा तो दौड़ी हैं बाई गॉड! और पांच किलो वेट लॉस भी हो गया। हम साला पिछले पांच महीने से पांच-पांच सौ डंबल रोज़ मार रहे हैं, हमारा तो पांच ग्राम नहीं कम हुआ।”

स्वयं युविका और सारिका से तो अभी तक फ़ेकिंग न्यूज़ का संपर्क नहीं हो सका है परन्तु जाने-माने मनोवैज्ञानिक डॉक्टर अनजान पिस्तावाला ने इस मामले पर टिप्पणी करते हुए बताया- “जैसे लोग व्यायाम करते समय संगीत सुनकर या कोई टीवी चैनल देखकर अपना ध्यान बंटाते हैं, वैसे ही इन दोनों लेडीज ने बातें करते हुए अपना ध्यान बंटाया।”

“लेकिन डॉक्टर साब ट्रेडमिल पर दौड़ते हुए अगर कोई ज़्यादा बात करे तो सांस फूलने लगती है, फिर इनकी क्यूं नहीं फूली?”, इस पर पिस्तावाला बोले- “अगर कोई पहले से ही बिना रुके कई घंटे बोलने का आदी हो तो वो दौड़ते हुए भी काफी लम्बे समय तक बोलते रह सकता है। हां, एक बात और! अपनी-अपनी सास की बुराई करने से इन दोनों में एक अग्रेशन यानि क्रोध की भावना उत्पन्न हो गयी, जिस कारण इनके शरीर में एड्रेनैलिन नामक रसायन ज़रूरत से अधिक मात्रा में बनता रहा, जिस वजह से ये दोनों इतने घंटो तक दौड़ सकीं। अच्छी बात तो ये है कि दोनों का वज़न भी घटा जो कि स्वास्थ्य के लिए अत्यन्त ही लाभप्रद है।”

डॉक्टर पिस्तावाला अब इस विषय पर और शोध करने का विचार कर रहे हैं, जिससे कि जल्दी वज़न घटाने के इच्छुक लोगों को लाभ होगा। इस शोध के नतीजे में ऐसी मशीनें बनायी जायेंगी, जिनमें लगा कंप्यूटर कसरत करने वाले इंसान के संग मिलके औरों की बुराइयां करेगा और साथ ही साथ उन्हें कसरत भी करवाएगा। इससे लोग बोर नहीं होंगे और कई घंटे व्यायाम कर पाएंगे।