Wednesday, 13th December, 2017

प्रोडक्शन में फटा कोड, सॉफ्टवेर इंजिनियर पंहुचा कोमा में: पुलिस ने लिया प्रोजेक्ट मेनेजर को रिमांड पर

23, Nov 2017 By sudhir shivhare

पुणे. शहर के हिन्जेवाड़ी क्षेत्र स्थित देश की नामी गिनामी सॉफ्टवेर कंपनी में एक अजीबो गरीब वाक्या सामने आया है, कल शनिवार दोपहर कंपनी में काम करने वाले सॉफ्टवेर इंजिनियर भीकू मात्रे को गंभीर मानसिक स्थिति में पास ही के रूबी हॉल क्लिनिक में भरी कराया गया, बताया जा रहा है के वो अब भी कोमा में है..पुलिस पुरे घटना क्रम को लेकर सक्ते में है|

Man shocked
Man shocked

भीकू के रूम पार्टनर का कहना है की शनिवार तडके हैंगओवर में पडे भीकू ने जैसे ही अपने मोबाइल पर ऑफिस से आते फ़ोन की घंटी सुनी उसका माथा ठनकने लगा, मेनेजर ने उसे अपनी घबराती आवाज में बताया के उसका लिखा कोड प्रोडक्शन में फट गया है और क्लाइंट मेनेजर मार्क एडम ने टॉप प्रायोरिटी इशू रेज किया है, ये सब सुन भीकू का हैंगओवर तुरंत उतर गया.. उसके हाथ पैर ठन्डे पड़ने लगे माथे से पसीना भी आने लगा और वो डर के मारे थर थराने लगा|

साथ काम करने वाले सत्या ने काफी घबराते हुए बताया के उस दिन ऑफिस में 9/11 जैसा माहोल था और भीकू ये सब देख काफी डर गया था| ऑफिस में घुसते ही प्रोजेक्ट मैनेजर उसे वन-टू-वन डिसकशन के लिए बुलाया अपने केबिन में ले जाकर खूब गरियाया, मैनेजर के केबिन से आते ही भीखू सीधा कोड डी-बग करने बैठ गया और FIR की मुताबिक भीखू मात्रे कोड डी-बग करते करते ऐसे इनफैनईट लूप में फसा के सीधा कोमा में पहुँच गया|

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने सीधा मेनेजर को थर्ड डिग्री रिमांड पे लिया है लेकिन,भीखू का कोड रिव्यु करने वाला अब भी फरार बताया जा रहा है|