Monday, 29th May, 2017

पॉर्न साइट्स पर प्रतिबंध के बाद लोगों को फ्री वाई-फ़ाई की कोई ज़रूरत नही: दिल्ली सरकार

04, Aug 2015 By Virtually Real

हर बार की तरह उम्मीदों पर खरे उतरते हुए अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है कि उनके वज़ह से अब वो दिल्ली में लोगों को फ्री वाई-फ़ाई नही देंगे क्योंकि देश से पॉर्न बैन हो गया है तो लोग इंटरनेट का करेंगे क्या? इस संबंध में उन्होने यह पोस्टर भी लगाया है|

आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आँसूदोष ने क्रांतिकारी चैनल आजतक पर फूट फूट कर रोते हुए बताया कि इस तरह के प्रतिबंध के बाद हम यह भी नही कह सकते कि वो बैन  करते रहे और हम काम करते रहे|

केजरीवाल की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मार्मिक अपील
केजरीवाल की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मार्मिक अपील

वैसे इस मौके को भुनाने मे केजरीवाल ही नही बल्कि राहुल गाँधी भी पीछे नही रहे| उन्होने बताया कि जहाँ तक मुझे पता है अविवाहित लोगों के साथ बहुत बड़ा अन्याय हुआ है| जब उनसे विवाहित पुरुषों के हालात के बारे मे पूछा गया तो उन्होने वहाँ खड़े दिग्विजय सिंह की ओर देखा और दिग्विजय सिंह ने बस इतना ही कहा कि हमारी तो हालत और बुरी है| हालाँकि बाद मे कॉंग्रेस ने इस मुद्दे से अपने को अलग रखते हुए कहा कि राहुल बाबा ने ग़लत समझ लिया कि पोगो और कार्टून पर प्रतिबंध लगाया है|अब  हमे इस मुद्दे से कोई लेना देना नही है|

कश्मीर से कन्याकुमारी और गुजरात से असम तक के सारे होस्टल मे रहने वाले छात्रों ने सरकार के इस कदम को युवा विरोधी बताया और कहा कि इसे मैगी बैन से जोड़ते हुए बोला कि ये लोग हर चीज़ जो शॉर्टकट मे भूख मिटाती है, उसपर प्रतिबंध लगा देते हैं|

उत्तर प्रदेश से खबर मिली है फ्री मे मिले लॅपटॉप को लोग बेच रहे हैं| लोगों का कहना है कि कुछ ने तो लोकसभा चुनावों के कैंपेन मे इसका खूब प्रयोग किया, अब क्या करें इसका और तो और पॉर्न साइट्स बैन भी हो चुकी है| वहीं अक्ललेश यादव ने कहा है कि मैने तो पीके की ही तरह टॉरेंट से 426 GB ऐसे मूवीस डाउनलोड किया था, तो मुझे कोई चिंता नही है|

कर्नाटक विधानसभा सदस्यों ने इस प्रतिबंध पर बिल पास करने की योजना बनाई है| हमारे इस संवाददाता को बताते हुए उनके प्रतिनिधि ने कहा कि अब हम सदन के अंदर क्या करेंगे, आस्था चैनल थोड़े ही देखेंगे|

वही Airtel, MTNL, वोडाफोन के सूत्रों ने कहा हैं कि सरकार की इस पहल से लोगों ने अपने ब्रॉडबैंड कनेक्शंस कटवाने शुरू कर दिए हैं| टेलिकॉम विभाग के सूत्रों के अनुसार लगभग 39.45 प्रतिशत लोगों ने या तो ब्रॉड बैंड हटवा दिया है या फिर अर्जी दी है|

जब इस मामले पर हमने केंद्र सरकार के प्रतिनिधि से बात की तो नाम जाहिर करने की शर्त पर उन्होने साफ कहा कि हम मेक इन इंडिया को प्रोमोट कर रहे हैं| अब तो हमारे पास सनी लेयोन भी है फिर विदेशों की वेबसाइट्स को देखने का क्या फ़ायदा| अपने देश मे ही सनी लेयोन जैसी और प्रतिभाओं को खोजने की ज़रूरत है|

इस बीच देश के अलग अलग जगहों से मिल रही खबरों के अनुसार बहुत सारे लोगों ने कन्याओं को बहन कहकर बुलाना शुरू कर दिया है| उत्तर प्रदेश मे तो रक्षा बंधन के 10  दिन पहले से लोगों में राखी बंधवाने का जुनून साफ नज़र आ रहा है| हिंदू जहांसभा और अन्य नैतिकता के ठेकेदार संगठनो का कहना है कि यह सब पॉर्न साइट्स पर बैन के बाद ही हो पाया है| विस्तृत रिपोर्ट की अभी प्रतीक्षा है..