Wednesday, 13th December, 2017

पुलिस कांस्टेबल ने सुप्रीम कोर्ट से की अपील, नाईट शिफ्ट में मिले सविता भाभी की पुस्तकें

12, Jan 2015 By naveen

चंडीगढ़. पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने हाल ही में एक फैसले के दौरान यह निर्णय लिया कि अब कैदी अपनी इच्छा से सजा के दौरान जेल में सेक्स कर सकते हैं। इस फैसले के बाद से देशभर के कांस्टेबल असमंजस की स्थिति में हैं।

खासतौर पर नाईट शिफ्ट में रहने वाले कांस्टेबलों ने इस फैसले पर कड़ा विरोध जताया है। उनका तर्क है कि एक तरफ जहां अपराधियों को पूरी रात एशो-आराम से गुजारने का हक दिया जा रहा है वहीं उन्हे एक लकड़ी की कुर्सी पर जागते हुए पूरी रात गुजारनी पड़ती है। कांस्टेबल हक रक्षक संस्था के संयोजक हीरालाल पांडे ने बताया कि वे लगातार कांस्टेबलों के हक के लिए आवाज बुलंद करते रहेंगे।

अपनी इसी मुहीम के चलते पांडे जी ने अब सु्प्रीम कोर्ट में पीआईएल डाल कर नाईट शिफ्ट करने वाले कांस्टेबल को सविता भाभी सामग्री उपलब्द्ध कराने की मांग की है। उन्होने ड्यूटी के हिसाब से सामग्री का विस्तार किया है 10 से 2 बजे तक ड्यूटी के दौरान मैगजीन सामग्री दी जाए और 2 से 6 बजे वाले कांस्टेबल को सनी लियोनी द्वारा अभिनीत कुछ वीडियो भी उपलब्द्ध कराए जाएं।

हरियाणा के हिसार में तैनात में एक कांस्टेबल ने हमारे संवाददाता को बताया कि ये मांग बिलकुल जायज है क्योंकि नाईट शिफ्ट में पूरी रात जागना काफी मुश्किल होता है और जब जेल के भीतर कैदी अपनी प्रेम लीला कर रहे होंगे तो जवान कांस्टेबल को संयमित करने के लिए इन चीजों की जरूरत पड़ेगी।

पीआईएल की पहली सुनवाई में हीरालाल पांडे ने अपनी बात को काफी जोरदार तरीके से पेश करते हुए कहा कि घर से दूर किसी जवान कांस्टेबल पर उस वक्त क्या बीतेगी जब बगल वाले सेल में एक अपराधी आनंदमयी रात बिताएगा। जज ने मुद्दे की गंभीरता देखते हुए फिलहाल सुनवाई की तारीख एक सप्ताह आगे बढ़ा दी है।

Topics:#jail #Punjab