Wednesday, 13th December, 2017

पद्मावती फ़िल्म का डिब्बा गोल, रुक गई फ़िल्म

16, Nov 2017 By khakshar
फिल्म में रानी का घाघरा लेकर भागते  रणवीर, न होगा घाघरा -न होगा घूमर 
फिल्म में रानी का घाघरा लेकर भागते  रणवीर, न होगा घाघरा -न होगा घूमर

भारत के कई हिस्सों में पद्मावती फ़िल्म का विरोध हो रहा हैं। जयपुर, सूरत और पटना में फिल्म का उग्र विरोध हुआ हैं। यहाँ तक कि भारत आए श्री-लंका के क्रिकेटरों ने अपनी बुआ, सिंहला राजपुत्री-पद्मावती के अपमान का विरोध किया हैं। फिल्म पद्मावती के विरोध में श्री-लंकाई टीम ने सारे मैच हारने का मन बना लिया हैं। अब मुंबई के डब्बे वालों भी विरोध में आ गए हैं। उन्होंने फ़िल्म पद्मावती के सेट पर डिब्बा पहुँचाने से मना कर दिया हैं। इतना ही नहीं उन्होंने ये भी कहा हैं कि इस फिल्म में काम करने वालों का भविष्य में भी डिब्बा गोल ही रहेगा।

अंदर से बात आई हैं कि इससे पूरा फ़िल्म यूनिट सकते में आ गया हैं। निर्माता-निदेशक भंसाली काफ़ी चिंतित हैं। हालाँकि कल तक भंसाली फ़िल्म को मिल रही मुफ़्त प्रचार से काफ़ी खुश थे। लेकिन डिब्बा-गोल वाली ख़बर ने उनका हाल बिगाड़ दिया हैं। अब पूरी यूनिट का खाने का खर्चा जो सर पे आ गया हैं। फ़िल्म यूनिट के सबसे खदोड़ स्पॉट बॉय ने भंसाली से हर्ज़ाने के रूप में साढ़े-बारह लाख की माँग कर डाली हैं। ये करीबन चालीस सालों तक उस स्पॉट-बॉय के दिन के भोजन का आने वाला बिल हैं (GST की नई दरों के साथ)।

छनी ख़बर ये भी आ रहीं हैं कि ख़िलजी फ़िल्म के पूरा होने में रुकावट बन रहे हैं। सारी ख़बर “रानी का घुमर” ही बटोर रहा हैं, तो बचा क्या… देशी चिंग। गूगल पर भी टॉप ख़ोज में “रणवीर सिंह की जाति” नहीँ ट्रेंड कर रहीं हैं। ऊपर से आजकल देसी चाईनीस चिंग की ब्रांड अम्बैस्डर श्रीदेवी बन गई हैं।अब वो चिंग सिंह भी नहीं रहे। ये भी पता चला कि चिंग-सिंह इतने गुस्से में हैं कि उन्होंने फ़िल्म बनने में रुकवट बनने का विचार बना लिए हैं।