Saturday, 16th December, 2017

पान मसाला के बाद यू पी में शराब भी बंद, पूरे यूपी में हड़कंप

12, May 2017 By Jagdish Jat

अपने फैसलों (बंध) से चर्चित योगी जी  ने एक बार फिर यूपी की जनता को चौंका दिया, आज से यूपी में शराब बन्द हो जाएगी, साथ ही हनी सिंह, बादशाह और अन्य रैपर के गाने भी यूपी में नही बज पाएंगे।

पान मसाला और गुटखा के बैन के बाद यूपी सरकार के कर्मचारियों का एक मात्र साधन शराब ही बचा था, सुबह सुबह ही टल्ली होकर आफिस आए बच्चा सिंह यादव को जब हमने ये खबर सुनाई तो उनकी एक सेकंड में ही उतर गई और खीजते हुए बोले, “हम पहले ही बताए थे इन बाबा और योगियों से सरकार नही चलती है, पहले पान मसाला और अब शराब, एक आम आदमी कहाँ जाए अब, इससे अच्छा तो पुत्तर और बुआ थे जो खुद भी और हमे भी…” कहते कहते गला फाड़कर रोने लगे।

योगीजी मज़े लेते हुए
योगीजी मज़े लेते हुए

जब हमने ग्यारसीलाल (एन्टी रोमियो स्क्वाड के सदस्य) से इस बारे में पूछा तो बताया कि, ”देखो बाबा को तो कुछ काम है नही पूरे दिन गांजे में लीन रहते है और हमारे पेट के ऊपर लात मार दिए हैं, हमरा पहले आबकारी विभाग में तैनात थे तो सोचे एक दो ठो बच्चे पैदा कर ही लें लेकिन अब लग रहा है हमसे नही हो पायेगा।”

जब इस बारे में शराब दुकान संचालक से पूछा तो उन्होंने बताया, “पान मसाला और गुटखा तक तो ठीक है लेकिन शराब बंद करना नामुमकिन है क्योंकि थानों /सरकारी कार्यलयों/ फार्म हाउस/ कोठियों के जलसे बिना शराब/शबाब/कबाब के अधूरे है, उसके बिना तो आधा यूपी कभी आनंद ही नही लेगा, ये कहते कहते पान के पीक से मोनालिसा बनाने की कोशिश करते हुए सड़क पर पीकदान कर दिया।”

जब सूत्रों ने विपक्ष से इस फैसले के बारे में प्रतिक्रिया देने को कहा तो भड़कते हुए उन्होंने कहा, “हमारे नेताजी और उनके पुत्तर ने हमेशा यूपी का ख्याल रखा ऐसे समाज सुधार के निर्णय कभी नही लिए, चाहे उसके लिए चुनाव ही क्यों न हार गए, ये कहते कहते पव्वे से दो घूट मार ही ली, फिर बोले पता नही कब आगे पीने का मौका मिले या न मिले।

जब बुआ से बात करने की कोशिश की तो उन्होंने बताया कि, “आपका बहुत आभार क्योंकि चुनाव के बाद उन्हें कोई सीरियसली नही ले रहा है, ये सब कमबख्त EVM का दोष है जिसने इतना दलित विरोधी काम किया है।” ये कहते कहते बुआ दहाड़े मार के रोने लगी, जब किसी ने बताया कि आज का ‘इंतजाम’ हो गया है तब जाके वो शांत हुई, हमारे सूत्र भी जैसे तैसे सुनामी से बचकर भाग खड़े हुए।

इसी बीच खबर मिली कि पतंजलि एक पेय पदार्थ पर काम कर रहा है जो पूरी तरह से स्वदेशी और शाकाहारी होगा जिससे शरीर को कोई नुकसान नही होगा और लोगों को शराब जैसा आनंद मिलेगा, जल्द ही इस बारे में बाबा प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।

गुप्त सूत्रों से पता चला है कि पतंजलि को योगी सरकार ने शराब जैसा पेय पदार्थ  बनाने के लिए ठेका भी दिया है।