Tuesday, 17th October, 2017

मोदी जी के वैक्स स्टैचू में फिट होगा टेप-रिकॉर्डर, मित्रों-मित्रों कह कर करेगा दर्शकों को सम्बोधित

21, Apr 2016 By Pagla Ghoda

मैडम तुसाद म्यूसियम: प्रधानमंत्री मोदी के नए वैक्स स्टैचू को आप कोई आम स्टैचू मत समझिएगा| अत्यन्त विश्वसनीय सूत्रों के हवाले से पता चला है के इसमें कई आधुनिक गैजेट एवं अनुसंधान यन्त्र फिट किये जायेंगे|

नज़दीकी भविष्य में मोदीजी का यह पुतला यूके में मन की बात भी करेगा
नज़दीकी भविष्य में मोदीजी का यह पुतला यूके में मन की बात भी करेगा

सर्वप्रथम तो ये मोम का पुतला आने जाने वालों को डिटेक्ट करके उन्हें “मित्रों” कहकर सम्बोधित करेगा| इस पुतले में मोदी जी के कई पुराने भाषणों की रिकॉडिंग भी भरकर उसे लूप पर चलाया जायेगा| इसमें लगे अत्याधुनिक गैजेट इतने शक्तिशाली होंगे के अगर कोई भी “विकास” नाम का लड़का इस पुतले के पास से गुज़रेगा तो ये पुतला उसका आलिंगन कर उसका अभिवादन करेगा| इस बात की पूरी जानकारी तो नहीं पर ये भी कहा जा रहा है के अपना पाँव छूने वालों को ये पुतला कुछ आशीर्वाद टाइप्स भी दिया करेगा|

विपक्ष के प्रवक्ता रविश बुखारी ने इस स्टैचू को प्रधानमंत्री मोदी की सामंतवादी विचारधारा का प्रतीक बताते हुए इसकी कड़े शब्दों में निंदा की है| उन्होंने कहा, “मोदी जी इन सब चीज़ों में काफी पैसा खर्च कर देते हैं| बड़े बड़े बोइंग विमान में घुमते हैं| हमारे राहुल बाबा, और हमारे केजरीवाल जी को देखिये, छोटे से प्राइवेट जेट में ही हर जगह घूम लेते हैं| ये होती है सादगी और शालीनता| मोदी जी बड़े बड़े भाषण देते हैं, और हमारे राहुल बाबा कुछ ही शब्दों में निपटा लेते हैं| ये होती है विनम्रता| हमारे राहुल बाबा को तो देख कर ही बस उनकी चप्पल उठाने को जी करता है| जब भी उनकी तरफ देखो तो एक प्यारे से मोम के गुड्डे से लगते हैं| उनके लिए अलग मोम के पुतले की क्या ज़रुरत? इटालियन ब्लड हैं जी, इम्पोर्टेड हैं, बढ़िया क्वालिटी वाले|”

हालाँकि विपक्ष की इस निंदा का मोदी जी ने या प्रधानमंत्री के दफ्तर ने तो कोई जवाब नहीं दिया है परन्तु कयास लगाए जा रहे हैं के मोदी जी का वैक्स स्टैचू कल सुबह एक प्रेस वार्ता बुलाकर खुद पर लगे इल्ज़ामों का खंडन कर सकता है|