Saturday, 21st October, 2017

मोदी ने अपने बैग में पुराने मूर्तियों के साथ डाल लिया था मुहम्मद अली का ग्लव्स, ओबामा ने वापस माँगा

09, Jun 2016 By Ritesh Sinha

वाशिंगटन– अमेरिका यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज मुहम्मद अली का ग्लव्स चुराते हुए पकड़े गए। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक मोदी जी उन मूर्तियों को अपने बैग में डाल रहे थे जिन्हें अमेरिका ने वापस किया है, तभी उन्होंने पास में ही रखे मुहम्मद अली के ग्लव्स को भी चुपके से अपने बैग में डाल लिया। एक सुरक्षाकर्मी ने मोदी जी को ऐसा करते हुए देख लिया और तुरंत बैग से मुहम्मद अली का ग्लव्स निकालने की मिन्नत करने लगा। कुछ ही देर में वहां बहुत सारे अधिकारी जमा हो गए और मोदी जी को ग्लव्स वापस करने की मांग करने लगे।

modi

थोड़ी देर बाद ओबामा भी वहां पहुँच गए। ओबामा ने मोदी को साइड में लेते हुए कहा, “अरे यार, ग्लव्स वापस कर दो ना! इतनी सारी मूर्तियाँ वापस कर दी फिर भी तुम्हारा लालच कम नहीं हुआ है, चलो वापस करो।” ऐसा कहते हुए ओबामा मोदी के हाथ से बैग छीनने लगे। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने बचाव में कहा कि, “हमारे यहाँ अहमदाबाद में नाश्ता करने पर होटल वाला चाय फ्री में दे देता है, इसलिए मैं भी इस ग्लव्स को मूर्तियों के साथ काम्प्लीमेंटरी समझ कर बैग में डाल रहा था, अब तुम कह रहे हो तो मैं वापस कर देता हूँ, ये लो” ऐसा कहते हुए मोदी ने ग्लव्स निकाल कर दे दिए।

बाद में इस घटना के बारे में पूछे जाने पर मोदी ने कहा कि, “जब मैंने ग्लव्स को कोने में खाली पड़ा हुआ देखा तो मुझसे रहा नहीं गया और मैंने उसे अपने बैग में डाल लिया।”

विशेषज्ञों का मानना है की इस घटना के बाद अमेरिका और भारत के रिश्तों में खटास आ सकती है। इधर भारत में कांग्रेस पार्टी ने बयान जारी कर कहा है कि, “ये सब आरएसएस की चाल है, हम मोदी से इस्तीफ़ा मांगते हैं, राहुल गाँधी हमारे सबसे बड़े नेता हैं, हम हिन्दू राष्ट्र नहीं बनने देंगे, कंप्यूटर राजीव गाँधी जी ने लाया था।” वहीँ आम आदमी पार्टी ने बयान जारी कर कहा है कि, “हम सबसे ईमानदार हैं, मोदी और आरएसएस देश को बांटना चाहते हैं, हम सबसे ईमानदार हैं, ग्लव्स चुराना पाप है, हम सबसे ईमानदार हैं, दिल्ली पुलिस हमारे अंडर नहीं है, हम सबसे ईमानदार हैं।”