Sunday, 22nd October, 2017

मेरे रश्के कमर का रीमिक्स सुनने वाले युवक ने खुद को बताया नुसरत साहब का फैन, जन्नत से खान साहब ने भेजा धिन्चक पूजा को बदला लेने के लिए

06, Jun 2017 By jd

उस्ताद नुसरत फ़तेह अली खान, संगीत का दुनिया का ऐसा नाम जिसको परिचय की कोई जरुरत नहीं है| हालाँकि आज की युवा पीढ़ी के लिए यह नाम गायब सा हो गया है| हनी सिंह, बादशाह, और अरीजीत के गाने सुनने वालो वैसे भी उस्ताद के गाने कहा ही समझ आने वाले हैं|

दुनिया को तबाह करने के लिए नुसरत साहब के शाप से बना एक जीवित परमाणु बॉम्‍ब
दुनिया को तबाह करने के लिए नुसरत साहब के शाप से बना एक जीवित परमाणु बॉम्‍ब

लेकिन जैसे आज कल जैसे रीमिक्स का दौर आया, कोई भी पुराना गाना एक दम वापस लोगो की जुबान पर आ जाता है| पिछले कुछ दिनों से हर किसी के मुह पे “मेरे रश्के कमर तूने पहली नज़र जब नज़र से मिलायी तो मज्जा आ गया” सुनाई दे रहा|

हमारे रिपोर्टर्स ने इस बात की तह तक जाने का फैसला किया, क्यूंकि इस दौर में नुसरत साहब के गाने ट्रेंड होना भी बहुत बड़ी और अछी बात है| तफ्तीश के दोरान हमारी मुलाकात दीपक नाम के युवक से हुई जो यह गाना गुनगुना रहे थे, जब हमने दीपक से पुछा के उन्हें यह गाना क्यों अच्छा लगता है, तो उन्होंने बताया के इस गाने का विडियो जो की whatsapp पे आया था बहुत अच्छा और उस लड़की से तो उन्हें प्यार ही हो गया|

हमारे रिपोर्टर्स जो के खान साहब के बहुत बड़े फैन हैं, वो यह सुन के बहुत हैरान हो गए, ऐसा कैसे हो सकता है, क्यूंकि उन्होंने तो इस कवाली का बस ऑडियो ही सुना था| हालाँकि जब विडियो देखा गया तो पता लगा के किसी ने एक MMS के साथ ऑडियो मिक्स किया है| इसके बाद हमारे रिपोर्टर्स काफी सदमे में हैं, और दीपक “मज्जा आ गया, मज्जा आ गया” गुनगुनाते हुए आगे निकल गए|

वैसे तो यह कलयुग की शुरुआत ही है, अब तो होने को कुछ भी हो सकता है, और इसका बदला लेने के लिए ही शायद भगवान ने धिन्चक पूजा को जनम दिया है, पुरानी क़वालियो की बेईज़ती और पूजा के गाने सुन के खान साहब की आत्मा पक्का ऊपर से देख कर रोती होगी|