Wednesday, 18th October, 2017

"अब मैं वापस जाऊं भी तो कैसे जाऊं, उन्होंने मेरा पासपोर्ट ही रद्द कर दिया" -माल्या

15, Apr 2016 By बगुला भगत

नयी दिल्ली/लंदन. विदेश मंत्रालय द्वारा अपना पासपोर्ट रद्द किये जाने के बाद विजय माल्या ग़म में डूब गये हैं। जब से पासपोर्ट रद्द होने की ख़बर आयी है, तभी से वो इंडिया गेट, कुतुब मीनार और लालक़िले की तस्वीरों को निहारे जा रहे हैं।

Mallya2
भारत के बैंकों को याद करते ही माल्या जी की आंखें छलक उठीं

“उन्होंने मेरा पासपोर्ट रद्द कर दिया। अब मैं कभी इंडिया नहीं जाऊंगा, कभी नहीं!” –कहते हुए वो किसी छोटे बच्चे की तरह दहाड़ मारकर रोने लगे।

“लेकिन आपको ईडी के सामने पेश होने के तीन मौक़े दिये गये थे, आप गये क्यूं नहीं?”, इस पर उन्होंने आंसू पोंछते हुए जवाब दिया कि “मैं चौथे नोटिस का इंतज़ार कर रहा था।”, “वो क्यूं?” “क्योंकि तीन तिगाड़ा काम बिगाड़ा!”

“मैं तो MakeMyTrip पे कोई सस्ती सी फ़्लाइट देख रहा था, तभी मेरी चार सेक्रेटरी रोती हुई आयीं और कहने लगीं कि “अब कोई फ़ायदा नहीं सर! लॉग आउट कर दीजिये! अब आपको सारी उम्र यहीं सुख दुख भोगना पड़ेगा।”

“ये कोई बात है! ना वे मुझसे पैसे वापस ले रहे, ना मुझे वापस ले रहे।” -यह कहकर वो ख़ामोश हो गये। फिर थोड़ी देर बाद “मेरे कैलेंडर, मेरी पार्लियामेंट, मेरी आरसीबी” -कहकर फिर से सुबकने लगे। उन्हें सुबकता छोड़ हमारा रिपोर्टर चुपके से उनकी एक सेक्रेटरी के साथ लंदन की सैर पर निकल गया।

इधर, आम आदमी पार्टी ने मोदी और माल्या पर आपस मिले होने का आरोप लगाया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा है कि “अब पासपोर्ट रद्द करने का क्या फ़ायदा। करना ही था तो तब करते, जब वो इंडिया में था। अब पछताये होत क्या, जब माल्या चुग गया बैंक!”