Sunday, 28th May, 2017

कटप्पा को लेकर अब तक संसद में कोई भी बयान न देने पर मोदी पर बिखरे केजरीवाल

09, May 2017 By Vinay Bhatt

मेरा गिरेबान तेरे गिरेबान से साफ है, इस कहावत को चरितार्थ करते हुऐ देश के मुख्यमंत्री श्री अरविन्द केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कटप्पा का बचाव करने का सीधा सीधा आरोप लगा दिया। उन्होंने कहा कि बाहुबली के पहले भाग में ही यह सवाल उठ चुका था कि आखिर कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा था? सारा देश यह जानना चाहता था। यह एक राष्ट्रीय प्रश्न बन चुका था।

मोदी जी के लिए राज़ खोलना ज़रूरी था पर उन्हों ने ये नहीं किया.
मोदी जी के लिए राज़ खोलना ज़रूरी था पर उन्हों ने ये नहीं किया.

ऐसे में इस राष्ट्र के प्रधानमंत्री होने के नाते मोदी जी की नैतिक जिम्मेदारी बनती थी कि इस बारे में उनको संसद के दोनो सदनों मे जबाव देना चाहिए था। लेकिन 2015 से ही मोदी जी ने इस प्रश्न पर सदन को आश्वस्त करने की भी जरूरत नहीं समझी। क्या इस तरह चुनी हुई सरकार व्यवहार करती है कि इस व्यापक स्तर की राष्ट्रीय जिज्ञासा का समाधान करना भी मोदी जी ने जरूरी नहीं समझा? और तो और गृहमंत्री राजनाथ सिंह को कम से कम कड़ी निन्दा करनी चाहिए थी। नहीं तो सरकार के प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद इसकी भर्त्सना ही कर देते।

मोदी जी ने ही इस राष्ट्रीय मामले से अपना पल्ला झाड़ने के लिए कपिल मिश्रा को मेरे खिलाफ भड़काया है कि उसने मुझे अपनी आंखों से दो करोड़ लेते हुए देखा। फिर थोडा मनीष सिसोदिया की तरफ हल्की सी हंसी के साथ केजरीवाल ने धीरे से कहा “जंगल में मोर नाचा किसने देखा।” फिर हमसे मुखातिब होकर बोले कि मैं अभी भी मोदी जी से कह रहा हूँ कि अब जब की देश को पता चल गया है कि बाहुबली को कटप्पा ने क्यों मारा तो अब उनको माफी मांगते हुऐ संसद में इस बारे में अपना मंशा और स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए नहीं हमें धरना देने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

सारी कथा सुनने के बाद हमारे फेकिगं न्यूज संवाददाता ने पूछा कि उन 2 करोड़ रूपये के बारे में आपका क्या कहना है। इस केजरीवाल जी ने कहा @$& पेंचो तू मोदी का ऐजेन्ट है और हमारे संवाददाता को धक्के दे कर बाहर करवा दिया।