Wednesday, 27th September, 2017

जैकी चेन की फिल्म में नहीं था नया स्टंट सीन: गुस्साए दर्शकों ने आपस में शुरू कर दी कुंगफू

04, Apr 2016 By Ritesh Sinha

बेताबी से नये स्टंट का इंतज़ार करते हुए दर्शक
बेताबी से नये स्टंट का इंतज़ार करते हुए दर्शक

पटना:  फत्तेलाल यादव पटना का रहने वाला था और जैकी चेन की फिल्मों का बेहद शौक़ीन था। एक दिन जब उसे पता चला की पटना के एक सिनेमाघर में जैकी चेन की नई फिल्म लगी है तो वह उसे देखने चला गया। जब वो टिकट लेकर अन्दर गया तो उसने देखा की उसकी सीट पर रामधन यादव बैठ गया है। दोनों में झगड़ा हो गया। फत्तेलाल ने रामधन से कहा- चाईनीज फिल्में देखना अच्छी बात है, लेकिन चाईनीज पालिसी तो मत अपनाओ, किसी दुसरे के “जमीन” को अपना कहना बुरी बात है। रामधन भी जोश में आ गया और उसने फत्तेलाल को कम्युनिस्ट कह दिया। कुछ लोगों ने दोनों के झगडे को शांत कराया फिर सब एक साथ फिल्म देखने लग गए।

पूरी फिल्म ख़तम हो गई लेकिन जब उन्हें कोई भी नया स्टंट सीन देखने को नहीं मिला तो सभी दर्शक भड़क गए और एक दुसरे पर चिल्लाने लगे। सबसे पहले फत्तेलाल ने रामधन पर हाथ उठाया, रामधन पहले से गुस्से में था उसने भी फत्तेलाल को मुक्का जड़ दिया। बाकि लोग भी इस झगड़े में कूद पड़े, और देखते ही देखते पूरा सिनेमाघर जंग के मैदान में बदल गया। सब एक दुसरे पर कुंगफू का “बिहारी वर्शन” इस्तेमाल कर रहे थे, जो रियल कुंगफू से ज्यादा खतरनाक माना जाता है। पुलिस के आने तक 90% कमीज ने अपना “कॉलर” छोंड दिया था, और 85% पैन्ट से “चैन” नदारद थे। ज्यादातर बनियान फट गए थे और बाकि बचे लोगों ने बनियान पहना ही नहीं था। पुलिस ने तुरंत झगड़ा शांत कराया। पुलिस ने बताया की घटना स्थल से हमने भारी मात्रा में खैनी, चूना, बीड़ी और कुछ देशी कट्टा बरामद किया है।

बाद में फत्तेलाल ने हमारे रिपोर्टर को बताया- मैं सिर्फ स्टंट सीन के लिए चाईनीज फिल्म देखता हूँ, लेकिन इस बार इस फिल्म में एक भी नया स्टंट नहीं था, लोग कहते हैं चाइना में मंदी आई है, जिसका असर उनकी फिल्मों में भी नज़र आ रहा है। कई फिल्म क्रिटिक ने भी इसे सिद्धांतों के खिलाफ बताया है और जैकी चेन को तुरंत माफ़ी मांगने के लिए कहा है।