Sunday, 24th September, 2017

जाटों की मांगे जल्दी मानने से जाट नाराज

24, Feb 2016 By आम लेखक

“बसें जलना तो हर जाट की पहचान होवे, ताऊ”

रोहतक. जाटों की मांगे जल्दी माने से जाट नाराज फिर से करेंगे आंदोलन करने की धमकी दी. जब हमारे फेकून संवादाता ने बुलेट सिंह जाट से कारन जानना चाहा तो उनका कहना था, “देख भाई ये सब तो तो हम कई दिन से कर रहे थे लकिन ये बावळी पूंछ JNU के लौंडे के चक्कर में कोई हमारी सुन नहीं रहा था”.

“फिर धीरे धीरे हमने अपनी माचिस निकली, कार फूकि बस फूकि माल फूका और सब मिल कर एक ट्रैन पर तेल डाल रहे थे तभी कहीं से खबर आई की सरकार ने हमारी मांगें मान ली है अब बताओ ताउ ये भी कोई बात हुई? इतना सारा हमारा तेल बर्बाद हो गया अब उसकी भरपाई कौन करेगा इसलिए इस बार हम अनिश्चित काल के लिए आंदोलन करेंगे ताकि अगले ५० सालों तक किसी और चीज़ पर आंदोलन करना ही ना पड़े”.

इतना कहने के बाद बुलेट सिंह जाट ने खाली तेल के डब्बे को फुक डाला और अगले शिकार की तलाश में निकल गए.