Monday, 11th December, 2017

लड़की ने किया सेक्स से इंकार, लड़के को मिली मुसलमान होने की सज़ा

01, Jun 2015 By k10m

बम्बई में मुसलमान युवती को फ़्लैट देने से इनकार करने के मामले को लोग बस अभी भुला ही पाये थे कि एक और सनसनीखेज़ खुलासे ने मुसलामानों की और बढ़ती घृणा को बेपर्दा कर हमारे सामने ला खड़ा किया है. इस बार मामला दिल्ली का है.

दिल्ली विश्वविद्यालय में इकोनॉमिक्स के छात्र अफज़ल गुरु ने कल शाम राजीव चौक मेट्रो स्टेशन से जब मेट्रो पकड़ी तो उन्हें कोई अंदाज़ा नहीं था कि उनके आस पास फैली नीच मानसिकता के कारण उन्हें ताउम्र शर्मिंदगी से गुज़रना पड़ेगा. मेट्रो में पहले से मौजूद 23 वर्षीय संगीता को देख अफज़ल गुरु के दिल में ज्वालामुखी फूट पड़ा और वो कैसे भी धक्का-मुक्की करके संगीता के बगल में जाकर उससे चिपककर खड़ा हो गया.

Delhi Metro
ऐसी किसी जगह पे हुई ये शर्मसार करने वाली घटना

अगले 20 मिनट लगातार अपनी छिछोरी हरकतों से संगीता का ध्यान खुद की और आकृष्ट कर पाने में असमर्थ अफज़ल गुरु ने अंत में चिल्ला कर संगीता को सेक्स करने का निमंत्रण दे डाला. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार गुरु ने ये निमंत्रण इतनी तेज़ दिया था कि कानों में इयरफ़ोन ठुंसे होने के बावजूद सभी ने साफ़-साफ़ सारी बातें सुन लीं. अफज़ल के इस निमंत्रण को संगीता ने स्वीकार न करते हुए कारण दिया कि युवक मुसलमान है और वो मुसलमान के साथ सेक्स नहीं करना चाहती हैं. ऐसा सुनते ही पांच वक़्त के नमाज़ी अफज़ल सकते में आ गए. सूत्रों के अनुसार अफज़ल की लगायी हुई टोपी से संगीता को इस बात की भनक लग गयी थी कि युवक मुस्लिम है.

घर आकर पड़ोसी के चुराए वाईफ़ाई से लैपटॉप कनेक्ट कर अफज़ल गुरु ने फेसबुक पर इस घटना को काफी बढ़ा-चढ़ा कर पोस्ट किया और साथ ही एंजेल पलक और पापा की प्रिन्सेज़ प्रिया के साथ कुल 69 लोगों को टैग भी किया. अफज़ल के खाली बैठे दोस्तों ने दोस्ती की खातिर पोस्ट को ज्यों ही धकापेल शेयर करना शुरू किया, उनसे भी ज़्यादा खाली बैठे स्कूपव्हूप पेज ने पोस्ट को वायरल करना शुरू कर दिया.

मामले के तूल पकड़ते ही पुलिस से पहले मीडिया ने तेज़ी दिखाई और तमाम रिपोर्टर सहानुभूति का नारियल चढ़ाने अफज़ल गुरु के घर के बाहर इकठ्ठा हो गए. पुलिस ने भी 3 घंटे की देरी से त्वरित कार्यवाही करते हुए संगीता को जवाब तलब किया और अनिश्चितकाल तक बिना पुलिस की अनुमति के सेक्स करने से साफ़ मना कर दिया.

उधर सोशल मीडिया पर अफज़ल के पक्ष में सैकड़ों लोग खड़े दिखाई दिए. मुसलामानों के ख़िलाफ़ इस प्रकार की ये 4 दिनों में चौथी घटना है. जे.एन.यू. के परम स्कॉलर विद्यानंद ने ट्वीट करके कहा कि ‘घर और सेक्स छिनने के बाद अब मुसलामानों के पास बचा ही क्या? उन्हें सेक्स की छूट होनी चाहिए.’

अरनब गोस्वामी के टीवी डिबेट के एक और फैन ने सिर्फ मुसलामानों के लिए बनने वाली कॉलोनी की तर्ज पर सिर्फ मुसलमानों से सेक्स करने वाली लड़कियों की मांग रक्खी है. इसी बीच संस्कृति मंत्री चौंधरनाथ दुबे ने अफज़ल को ये भरोसा दिलाया है कि उन्हें संगीता के साथ सेक्स करने का भरपूर मौका मिलेगा और इस पूरे कार्यक्रम को वे दूरदर्शन पर लाइव टेलीकास्ट कर जाति बंधन की दीवार को गिरा एक अनोखी मिसाल कायम करेंगे.

साथ ही संस्कृति मंत्री ने ये भी घोषणा की कि इस देश का कोई भी मुसलमान किसी भी युवती के साथ जब चाहे सेक्स कर सकता है, और पुलिस तथा प्रशासन सदैव उसके साथ हैं. उधर गृह मंत्री ने मामले को गंभीरता से लेते हुए लोक सभा के मॉनसून सत्र में माइनॉरिटी सेक्स नामक विधेयक पास कराने का वादा किया है. इस विधेयक के अंतर्गत देश की सभी युवतियों के लिए मुसलमान युवकों संग सेक्स करना एक अधिकार नहीं बल्कि राष्ट्रीय कर्तव्य घोषित किया जायेगा.

साथ ही विधेयक का दूसरा एवम् महत्वपूर्ण बिंदु मुसलमान युवकों को सेक्स में आरक्षण दिलाता है. इस बिंदु के अंतर्गत देश की सभी युवतियों को ये सुनिश्चित करना होगा कि उनके जीवनकाल में सेक्स करने वाले पुरुषों का 15% हिस्सा मुसलमान पुरुषों हेतु आरक्षित रहेगा.

संवाददाता: facebook.com/k10mishra