Tuesday, 17th October, 2017

दिल्ली वाले रोज़ाना मंगल गृह भेजेंगे 10 करोड़ लीटर पानी, नासा ने बंद की जल की खोज

16, Apr 2016 By Pagla Ghoda

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो और दिल्ली के “मफलर-शहंशाह” अरविन्द केजरीवाल ने ये घोषणा की है के अगले हफ्ते से दिल्ली वाले रोज़ाना मंगल गृह पर 10 करोड़ लीटर पानी भेजेंगे जिससे के नासा जैसी बड़ी एजेंसियों को करोड़ों रूपये खर्च करके इन ग्रहों पर पानी की खोज नहीं करनी पड़ेगी|

यह कहते हुए केजरीवाल ज़ी ने पानी की बॉटल गटका ली
यह कहते हुए केजरीवालज़ी ने पानी की बॉटल गटका ली

एक अत्यन्त ही भावुक अपील में केजरीवाल जी ने एक टीवी विज्ञापन के ज़रिये दिल्ली की जनता से प्रार्थना करते हुए कहा, “नमश्कार, मुबारक हो आप सबको| आज की डेट में पूरी दुनिया ही नहीं, पूरे बर्ह्माण्ड में, दुसरे ग्रहों पे भी दिल्ली की तारीफें हो रहीं हैं, सब कह रहे हैं दिल्ली में बड़े कारनामे हो रहे हैं| लेकिन वो बातें मैं एक अलग विज्ञापन में करूँगा| आज मैं एक विनम्र अपील करना चाहता हूँ| दोस्तों, आज मंगल गृह पर हमारे भाइयों और बहनो को पानी की ज़बरदस्त किल्लत का सामना करना पड़ रहा है| हमारा फ़र्ज़ बनता है उनकी इस कठिन वक़्त में सहायता करना| क्या सारे दिल्ली वाले लोग थोड़ा पानी रोज़ बचाके दस करोड़ लीटर पानी मंगल गृह पे नहीं भेज सकते? संडास में दो मग्गे पानी की जगह एक मग्गा ही इस्तेमाल कीजिये| महिलाएं हफ्ते में दो बार की बजाये केवल एक बार ही सर धोएं| सारे सरकारी पार्कों में भी पानी के आटोमेटिक फव्वारों में भी पानी की कटौती की जाएगी| आप बोलोगे के केजरीवाल जी, ये तो बहुत मुश्किल है| लेकिन ये कुर्बानियां हमें देनी होंगी|”

बोलते बोलते केजरीवाल जी की आँखों में आंसू आ गए और उनका गला रूंध गया| मफलर से आँखें पोंछते हुए उन्होंने आगे बोलना शुरू किया, “मैं ये पक्के से कह सकता हूँ, के दिल्ली का हर इंसान रोज़ सिर्फ एक कटोरी  पानी भी बचा ले न, तो हम ये पानी इकट्ठा कर पाएंगे| दिल्ली के मयूर विहार इलाके में 6 दिन से पानी नहीं आया है, लेकिन मैं उन लोगों से भी अपील करूँगा के वो भी थोड़ा पानी बचाएँ| और अगर आपको कोई पानी की बर्बादी करता दिखे न, तो उससे लड़ना नहीं है अपने को, बस उसे जाके प्यार से कहना, अंकल पानी बर्बाद मत करो, हमें मंगल गृह पे भेजना है| और जो पानी बचेगा वही हम दिल्ली वाले इस्तेमाल करेंगे| दिल्ली के दो करोड़ लोग साथ आ रहे हैं| जल्द ही क्रांति आएगी|”

जहाँ केजरीवाल जी की इस भावुक अपील से आप कार्यकर्ताओं और इंजीनियरिंग छात्रों में उत्साह और पानी बचाने की होड़ है, वहीँ पानी की कमी झेलते दिल्ली के कई इलाकों में जनता में थोड़ा रोष भी है| हालाँकि मंगल जाने वाले पानी के यान से छलक कर जब कुछ बूँदें इन इलाकों में पड़ेंगी तो इस रोष के कम होने की कुछ उम्मीद है|