Wednesday, 18th October, 2017

दिल्ली का लन्दन बनना तेज़ी मे शुरू हुआ, केजरीवाल जल्द लेंगे क़्वीन की उपाधि

08, Mar 2017 By bapuji

नई दिल्ली. मुख्यमंत्री केजरीवाल ने एक बार फिर से साबित कर दिया की वो सिर्फ़ बातें ही नही करते बल्कि उन पर अमल भी करते है। हाल मे ही उन्होने कहा की वो दिल्ली को लन्दन जैसा बनाएँगे और पाठको को जानकार आश्चर्य होगा कि बिना कोई समय गवाए उन्होने इस पर काम शुरू भी कर दिया। गुप्त सूत्रो से खबर मिली है कि मुख्यमंत्री अब लन्दन की क़्वीन एलिजाबेथ की तर्ज पर जल्द ही ‘दिल्ली की महारानी’ के नाम से जाने जाएँगे।

रानी केजरीवाल इंडियन अटायर में ही शपथ लेंगी
रानी केजरीवाल इंडियन अटायर में ही शपथ लेंगी

इसके लिए दिल्ली विधानसभा मे एक विधेयक पेश करने की तैयारी हो रही है। प्रस्तावित विधेयक “दिल्ली-बनेगी-लंदन बिल 2017” के प्रावधानो के अनुसार मुख्यमंत्री के पद को अब से दिल्ली की महारांनी के नाम से जाना जाएगा। इसके अलावा सभी आप विधायको के नाम के आगे लॉर्ड लगाया जाएगा। इस मौके पर एक प्रेस कॉन्फ्रेस मे लॉर्ड मनीष सिसोदिया और लॉर्ड आशुतोष ने पत्रकारो को बताया कि मुख्यमंत्री आवास को पूरी तरह से तोड़कर फिर से बर्किंघम पैलेस की तरह बनाया जाएगा और इसके लिए भूमि पूजन हो चुका है। वही मुख्यमंत्री की पुरानी वैगन आर गाड़ी को बेचकर अब घेरदार सफेद घाघरा, एक शाही बग्गी और कुछ घोड़े खरीदे जाएँगे।

“सिर्फ़ सरकार ही नही, बल्कि सब कुछ बदलेगा। अलग राजनीति है जी अपनी!” लॉर्ड आशुतोष ने आगे बताया कि दिल्ली पुलिस भी इस बदलाव का अंग बनेगी और इसे एमआई 6 (MI-6) की तरह बनाया जाएगा। और दिल्ली  पुलिस की सभी गाडियो और पीसीआर वेन मे राकेट लाँचर और अन्य हथियार लगाए जाएँगे ताकि अपने दिल्ली पुलिस के जवान भी जेम्स बॉन्ड की तरह अपराधियो की पुँगी बजा सके।

वही बी जे पी और कॉंग्रेस ने इसका जमकर विरोध किया है और इसे केजरीवाल की तानाशाही बताया है| संविधान एक्सपर्ट श्री लक्ष्मीकांत जी ने बताया कि इन बदलावों के लिए संविधान मे संशोधन करना पड़ेगा जो कि केजरीवाल सरकार के हाथ मे नही है।