Monday, 23rd October, 2017

काऊ-पिग कोर्डिनेशन कमेटी ने इंसानों को दी चुनौती: दम है तो दाल पार्टियां देकर दिखाएं!

21, Oct 2015 By jayjeet

नई दिल्ली। बीफ पार्टी के जवाब में एक संगठन द्वारा पोर्क पार्टी के एलान के बाद देश की तमाम गायें और सूअर भड़क गए हैं। इन्होंने नाराजगी जताते हुए चुनौती दी है कि अगर इंसानी नेता अपने आप को इतना दमदार समझते हैं तो दाल पार्टियां देकर दिखाएं।

पार्टी-ऑफीस के आगे
पार्टी-ऑफीस के आगे

देश में मौजूदा राजनीतिक हालात के मद्देनजर आनन-फानन में गठित काऊ-पिग कोर्डिनेशन कमेटी की यहां मंगलवार सुबह पहली मीटिंग हुई। इसमें इंसानों में बढ़ती जानवरी प्रवृत्ति पर गंभीर चिंता जताई गई। दो घंटे चली इस बैठक के बाद कमेटी ने अपने पोलिटिकल रिजोल्यूशन में गायों और सूअरों का इस्तेमाल अपनी राजनीति चमकाने के लिए करने के कुत्सित इंसानी प्रयासों की घोर निंदा की। सर्वसम्मति से पारित इस पोलिटिकल रिजोल्यूशन में कहा गया- “अपनी पोलिटिक्स के लिए इंसान जिस तरह से हमारा यूज कर रहा है, वह न केवल निंदाजनक है, बल्कि यह आम लोगों का ध्यान मूल मुद्दों से भटकाने की साजिश से ज्यादा कुछ नहीं है। अगर इंसान दाल पार्टियों के आयोजन करें तो यह उनकी बिरादरी के लिए ज्यादा हित में रहेगा। हम उन्हें दाल पार्टियां आयोजित करने की चुनौती देते हैं।” इसमें आगे कहा गया- “यह बात अविश्वसनीय है कि आज इंसानों के पास अपने मुद्दे नहीं रहे और वह हमारी आड़ में अपनी राजनीति कर रहे हैं।”

आजम खान की भैंसों ने कहा- नो कमेंट:

काऊ-पिग कोर्डिनेशन कमेटी के रिजोल्यूशन के बाद फेकिंग न्यूज के एक संवाददाता ने जब आजम खान की भैंसों से इस पर टिप्पणी मांगी तो उन्होंने मुंह फेरते हुए कहा- “नो कमेंट। गायों और सूअरों की इस राजनीति में हमें बीच में मत घसीटो। हम नहीं चाहती कि हमारे मुंह से कोई उलटा-सीधा निकल जाए और फिर कोई काली स्याही हमारे मुंह पर फेंक मारे। हमारा तो कुछ नहीं बिगड़ेगा, पर इंसानों की इस राजनीति के चक्कर में बेचारी काली स्याही की जबरन ही बेइज्जती हो जाएगी।”