Friday, 20th October, 2017

ग्लोबल वार्मिंग से नाराज़ बच्चों ने घेरा पर्यावरण मंत्री का ऑफिस, कहा जल्दी पिघल जाता है आइसक्रीम

11, Mar 2016 By Ritesh Sinha

दिल्ली – ग्लोबल वार्मिंग की समस्या वैसे तो पुरे विश्व को परेशान कर रही है,और सभी देश इससे निपटने के उपाय खोजने में लगे हुए हैं। लेकिन ग्लोबल वार्मिंग का दुष्परिणाम इतना बड़ा हो जाएगा ये किसी ने नहीं सोचा था। इसी समस्या से परेशान दिल्ली के होनहार बच्चों ने आज जंतर मंतर पर जमकर प्रदर्शन किया और बाद में पर्यावरण मंत्री के ऑफिस का घेराव कर दिया। सभी बच्चों की उम्र तीन से पांच साल तक बताई जा रही है।

ग्लोबल वॉरमिंग की शिकार आइस्क्रीम
ग्लोबल वार्मिंग की शिकार आइस्क्रीम

प्रदर्शन कर रहे एक बच्चे गोयल अवस्थी उर्फ़ गुल्लू ने FakingNews को बताया कि – मैं कल अपने घर के बाहर खेल रहा था तभी आइस क्रीम वाला आ गया। मैंने 10 रुपये की आइस क्रीम ली। मैं चांट ही रहा था की आइस क्रीम पिघलने लगी और उसका आकार तेजी से छोटा होता गया। फिर मेरे दिमाग में एक आईडिया आया मैंने अपने आइस क्रीम खाने की स्पीड में, असाधारण तेज़ी करते हुए स्पीड को 75 प्रतिशत तक बढ़ा दिया । फिर भी कोई परिणाम नहीं निकला और मेरा आइस क्रीम पिघल गया। इसलिए मैं इस प्रदर्शन में शामिल हुआ हूँ, और आज मैं इस मिनिस्टर के बच्चे का भुरता बनाकर ही घर की ओर प्रस्थान करूँगा।

आदित्य गुप्ता ने हमें बताया – मैं पिछले हफ्ते अपनी मम्मी के साथ एक पार्टी में गया था। हालाँकि जिनके घर पार्टी थी उन्हें मेरे पापा पसंद नहीं करते, फिर भी हम फार्मेल्टी निभाने चले गए थे। वहां मैंने 1 घंटे में केवल 6 आइस क्रीम खाई थी, जो मेरे पिछले रिकॉर्ड से बेहद कम थी। जब मैंने ग्लोबल वार्मिंग के बारे में सुना तब जाके मुझे पता चला कि मैं क्यों ज्यादा आइस क्रीम नहीं खा पा रहा हूँ।

एक और बच्चे विशु यादव ने बताया कि -मेरे पापा ने मुझे आइस क्रीम लाकर दी जो ग्लोबल वार्मिंग के चलते अपना वास्तविक आकार ज्यादा देर मेन्टेन नहीं रख पा रही थी । मैंने सोचा कि इसमें मेरे बड़े भाई टीशू यादव की कोई साजिश हो सकती है, तो मैंने उसे अपने क्रिकेट बैट से बेदर्दी से पीटा। जब मेरे पापा बीच में आ गए तो मैंने उसे भी पीटा। उसके बाद उन दोनों ने मिलकर मुझे पीटा। मैं परेशान हो गया,इसलिए इस प्रदर्शन में शामिल हुआ हूँ। मंत्री जी बताएँ कि उनसे होगा की नहीं, वरना हमें ही कुछ करना पड़ेगा।