Saturday, 21st October, 2017

बिहार मे शराब प्रतिबंधित होने पर गुजराती बूटलेगर एसोसिएशन ने बिहार मे बूटलेगर बनने को उत्सुक लोगो के लिए शुरू किये क्लासिस

06, Apr 2016 By prem

पटना. आज एक तरफ जब नितीश कुमार जी ने बिहार मे शराब पर प्रतिबन्ध लगाया तब सभी लोगो ने खुशियाँ मनाई. पर सारे शराब के वेपारी इस निर्णय से बहुत दुखी हुए. और अपने लिए किसी और धंधे की तलाश करने लगे. ऐसे लोगो के लिए गुजरात के बूटलेगर बहुत अच्छे समाचार लेकर आये हैं. गुजराती बूटलेगर एसोसिएशन बिहार मैं अवैध तरीके से शराब कैसे बेचे इस पर क्लासिस शुरू करने जा रहे हैं.

बूट लेगर बिहार में अपना पैर  जमाने की कोशिश में
बूटलेगर बिहार में अपना पैर जमाने की कोशिश में

हमारे साथ फोन पर बात करते हुए एक गुजराती बूटलेगर ने हमसे कहा की हमने जैसे ही ये समाचार पढ़े की बिहार मैं भी गुजरात की तरह शराब प्रतिबंधित कर दी गयी है; हमने तुरन्त ही ये फैसला लिया की हमे बूटलेगर बनना चाह रहे लोगो के लिए कुछ करना है. और बस हमने ये क्लासिस शुरू करने का फैसला कर दिया. जब क्लासिस के विषय के बारे मे उनसे पूछा तो उन्हों ने कहा की इन वर्गों मे लोगो को बॉर्डर पर से शराब की तस्करी, पुलिस के साथ सेटिंग, और ग्राहक तक शराब कैसे पहोंचाय जैसे विषयो पर क्लास और प्रक्टिकल सिखायेंगे.

ज्यादा जानकारी देते हुए उन्हों ने कहा की दुकानदारो को ज्यादा मायूस होने की ज़रूरत नहीं है. इस धंधे मे प्रॉफिट मार्जिन भी बहुत अच्छा है. जैसे की हम 80 रुपये की बियर 200 रुपये तक मे बेच लेते हैं. और वैसे भी बिहार के लोगो को गैरकानूनी काम मे रूचि देख कर मुझे लगता है उन्हें सिखाने मे हमे ज्यादा वक्त नहीं लगेगा. और बात ख़तम करने से पहले कहा की मे आप लोगो से गुज़ारिश करता हु की मायूस ना हो और हमसे जुड़े और बूटलेगरिंग के धंधे मैं अपना भविष्य उज्वल बनाये.

अब देखना ये है की ऐसी परिस्थितियों मे  नितीश जी इस प्रतिबन्ध को कितना सख्ती से लागु करते है. या फिर बिहार मे भी गुजरात की तराह शराब पर प्रतिबंद सिर्फ “सरकारी सत्य” बन कर रह जायेगा?