Monday, 23rd October, 2017

अगस्टा शब्द बोलने में कठिन है, इसलिए उन मुद्दों पर मैं बात ही नहीं करता~ केजरीवाल

09, May 2016 By Pagla Ghoda

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो महामहिम अरविन्द केजरीवाल जी ने मीडिया के सभी हिस्सों को सम्बोधित करते हुए साफ़ किया है के अगस्टा शब्द बोलने में थोड़ा कठिन है इसी कारण वो अगस्टा चॉपर स्कैम पर ज़्यादा बाते नहीं करते|

Kejriwal_Coughing
अगस्टा बोलते बोलते केजरीवाल 5 बार खांस दिए. फिर भी अगस्टा नही बोल पाए!

मूली के परांठो के साथ खीरे का रायता खाते हुए केजरीवाल जी ने पत्रकारों की पूरी जमात को अपने घर पर ही सम्बोधित किया| परांठा का एक बड़ा हिस्सा दबाते हुए केजरीवाल जी बोले, “यार आज की डेट में न नेगेटिविटी बहुत हो गयी है देश में| इनटॉलेरेंस के बाद यही बड़ा ब्जवर्ड है| लोग कहते हैं आप अगस्टा के खिलाफ नहीं बोल रहे, राहुल बाबा के खिलाफ नहीं बोल रहे, कांग्रेस के भ्रष्टाचार खिलाफ नहीं बोल रहे? अरे भाई ये भी कोई बात हुई? मैं मोदी जी की डिग्री के खिलाफ तो बोल रहा हूँ, ओड इवन के कारण लगभग खत्म हो गए दिल्ली के प्रदुषण के बारे में तो बोल रहा हूँ|| ये सब कोई नहीं देख रहा| एहम मुद्दों पर में हमेशा बोलता आया हूँ| छोटे मोटे स्कैम तो देश में होते रहते हैं जी पर मोदी जी ने उन्नीस सौ साठ में क्या डिग्री ली थी वो तो एक एहम मुद्दा है न जी?”

तीन कटोरी रायता पीकर केजरीवाल जी आगे बोले, “नेगेटिविटी यानि के नकारात्मक सोच के और उदहारण सुनिए आप| लोग बोल रहे हैं आपको लालू जी के साथ भ्रष्टाचार के विरुद्ध नहीं लड़ना चाहिए था| कन्हैया कुमार को गोद नहीं लेना चाहिए था| अरे भाई, ये “नहीं”, “न” जैसे शब्दों को हटाओ अपनी ज़िन्दगी से| अबसे “न” नहीं बोलेगा कोई| मैं “न” शब्द सुनना नहीं चाहता| आप कार्यकर्ता मेरे इस आदेश को न मान पाये तो न सही|”

इसी घरेलु प्रेस कांफ्रेंस में पत्रकारों को भी रायते, अचार और चटनी के संग परांठे परोसे जा रहे थे| तभी एक आप कार्यकर्ता के हाथों से रायते का डोल फिसल कर ज़मीन पर गिर गया, और रायता चारों और फैलने लगा| आशुतोष जी ने उस कार्यकर्ता को डाटना शुरू ही किया था के केजरीवाल जी ने बीच बचाव कर उन्हें शांत किया| उसके बाद केजरीवाल जी ने उस रायता फैलाने वाले कार्यकर्ता को गले लगा लिया और उनकी आँखों में आंसू आ गए| भरी आवाज़ में उन्होंने कहा, “सीखो, सब लोग इस नौजवान से कुछ सीखो| कोई सीखने को तैयार ही नहीं है आज की डेट में| यही तो नेगेटिविटी है, यही तो स्कैम है जी|”