Sunday, 25th February, 2018

आसाराम की कांग्रेस को चेतावनी: अपने भक्तों को "मेंटल" फिल्म न देखने देने की धमकी

05, Sep 2013 By Amit Bhagat

आसाराम चेन्नई एक्सप्रेस की सफलता का श्रेय लेते हुए

चेन्नई एक्सप्रेस की सफलता का श्रेय लेते हुए प्रमुख स्वयंभू संत श्री आसाराम बापू ने अपने ऊपर हुए अन्याय से कुपित हो कर केंद्रीय सरकार को धमकी दी है कि वे आगे से अपने भक्तो से बोलेगे कि चेन्नई एक्सप्रेस जैसी फिल्मे देख कर उन्हें हिट न बनाए।

आसाराम के इस बयान से कांग्रेस में हडकंप मच गया है। कांग्रेस के चुनावी रणनीतिकारों ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चेतावनी दी है कि चेन्नई एक्सप्रेस जैसी फिल्मो को हिट करवाने वाली जनता ही है जो कांग्रेस को वोट देती है। अतः इन्हें नाराज करना उचित नहीं है।

वैज्ञानिक तथ्यों से यह स्पष्ट हो चुका  है कि 200 करोड़ का बिजनेस करने वाली चेन्नई एक्सप्रेस के प्रशंसक तथा कांगेस को वोट देने वाली जनता की मानसिक अवस्था समान हैं। सोनिया गांधी ने मामले को संभालने की जिम्मेदारी राहुल गांधी को दे दी। एक बार फिर से अपने विवेक का परिचय देते हुए राहुल गांधी ने चेन्नई एक्सप्रेस को क्लीन चिट दे दी। आनन् फानन में सोनिया गांधी को फिर से एम्स में भर्ती करवाना पड़ा।

वहीँ दूसरी तरफ आसाराम ने किसी भी राजनीतिक व्यक्ति से मिलने से मना कर दिया है। आसाराम का कहना है कि वे अपने ही स्तर के किसी संत से बात करेगे। दिग्विजय सिंह ने समस्या का समाधान करते हुए रोबर्ट वाड्रा को आसाराम को मनाने के लिए भेज दिया। गौरतलब है कि रोबर्ट वाड्रा भी देश को उतना ही अपना समझते हैं जितना कि बापू आसाराम।

फिलहाल आसाराम अभी भी अपनी जिद पर अड़े हुए हैं और कांग्रेस अपनी आगे की रणनीति तैयार करते हुए सलमान खान की आने वाली फिल्म मेंटल पर नज़र गडाए हुई है। राहुल गांधी ने पार्टी मीटिंग बुला कर सलमान खान की आने वाली फिल्म “मेंटल” पर नज़र रखने को कहा है और कहा है कि अब सलमान की फिल्म कलेक्शन ही कांग्रेस के वोट कलेक्शन को तय करेगी।