Sunday, 17th December, 2017

अंदरूनी सर्वे में आप सबसे बड़ी पार्टी

23, Jul 2016 By navneet kumar

दिल्ली. अभी पिछले हफ्ते कुछ ऐसी घटनायें हुई हैं जो भारतीय राजनीति को बदल कर रख देंगे। केजरिवाल जी के राइट हैंड सिसोदिया के लेफ्ट हैंड के घर चोरी हो गई।अनोखी बात ये कि चोर कुछ ले नहीं गया। वहीं एक बैग रखा था जिसमें पांच करोड़ रुपये थे।ये रुपये केजरीवाल जी नें एक एक रात में दस दस डिनर करके अपने पाचक प्रणाली को दाव पर लगा के जमा किये थे। उस बैग की गिनती करने पर एक रुपया भी गायब नहीं मिला।पुलिस वाले भी सकते में हैं कि ऐसा ईमानदार चोर दिल्ली के माहौल को खराब कर सकता है। अब चुंकि पैसे तो गये नहीं तो चोरी का आरोप कैसे लगाया जाये। फिर सहमते हुये राइट हैंड के लेफ्ट हैंड नें बताया कि कुछ काग़ज लापता है। पुलिस का कहना है कि कागज चूहे ले गये होंगे। भला चोर को कागज का क्या काम। लेकिन हैरान करने वाली बात ये रही कि केजरीवाल खुद पूरी घटना पर नजर बनाये हुये थे। उन्होने सामान्य दिखने के लिये मोदी के चोर होने की आशंका भी जाहिर कर डाली।

सब पार्टियों का बाप - आप
सब पार्टियों का बाप – आप

इसी समयकाल में एक दूसरी घटना घटी जिसकी जानकारी मिलते हीं भारत के सभी हास्य कलाकार एक नाव पर बैठकर होनोलूलू चले गये। उनका कहना है कि ये आदमी पहले ताली ठोकता था अब झाड़ू ठोकेगा। जी हां हम बात कर रहे हैं मशहूर ठहाकेबाज सिद्धू पाजी के केजरीवाल से हाथ मिलाने की। घटना की पुष्टि तब होती दिखी जब सिद्धू पाजी की धर्मपत्नी नें एक घंटे के अंदर दर्जन बार यू टर्न मार दिया। ये यूटर्न वायरस छूने से नहीं फैलता पर तलवे चाटने से फैल सकता है।इसी बीच हमारे खोजी पत्रकार नें मुफ्त की दारू पीते हुये एक खबरढूंढी। पता ये चला कि जो फाइल चोरी हुई वो आम आदमी पार्टी के आंतरिक सर्वे की फाइल थी।अभी हाल की सर्वे से ये भी पता चला कि पंजाब में एक सौ सत्रह में से एक सौ सीट जीतना तय है।

कहानी में ट्विस्ट ऐसे आयी है कि एक अंदुरुनी सर्वे के मुताबिक सिद्धू को आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता पसंद नहीं करते और पार्टी के दरवाजे बंद हो सकते हैं। अब जो बात हमने अभी तक आपसे छुपाया, वो बता देते हैं।छह पेग पीने बाद हमारे खोजी पत्रकार महोदय वहीं लेफ्ट हैंड के घर पे पसर गये। जब रात में नींद खुली तो देखा कि केजरीवाल जी की मीटिंग चल रही है। और केजरीवाल जी जो बक रहे हैं उसको अंदुरुनी सर्वे की फाइल में नोट किया जा रहा है। केजरीवाल जी के दिमाग में जो भी उपज रहा है वो सर्वे में आ रहा है। इसी सर्वे से पता चला कि केजरीवाल छह फुटे सरदार से मिलके इस सोच में हैं कि इस सरदार को संभालेंगे कैसे।

मोदी जी बहुत दिनों से इस सोच में थे कि ये ससुरा कौन सा फॉर्मुला है कि हर सर्वे में होता वही है जो केजरीवाल चाहते हैं। अब अंदर कीखबर ये है कि मोदी खुद वो फाइल चुरा कर ले गये हैं। और आप पार्टी को खतरा इस बात का है कि अब भाजपा के भी अंदुरुनी सर्वे आयेंगे जिसमें भाजपा विशाल बहुमत से हर चुनाव जीतेगी।