Thursday, 19th October, 2017

अमिताभ बच्चन ने बांटी अभिषेक-श्वेता में संपत्ति, दीपिका पादुकोण ने कहा मेरे साथ हुआ अन्याय

06, Mar 2017 By कपट मुनि

मुम्बई। सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ने कल ट्विटर को साक्षी मानकर अपनी संपत्ति का बंटवारा कर दिया। बिग बी ने अपनी संम्पति में से आधा हिस्सा अपने बेटे अभिषेक और आधा हिस्सा बेटी स्वेता को देने की घोषणा की है।

अमिताभ की इस घोषणा को दीपिका पादुकोण ने अपने साथ अन्याय और पक्षपात बतलाया है। दीपिका ने कहा कि उन्हें अमिताभ की संपत्ति में से सबसे ज्यादा हिस्सा मिलना चाहिए था लेकिन बच्चन जी ने उन्हें फूटी कौड़ी भी नहीं दी।

बाबा की सेवा करती हुई दीपिका
बाबा की सेवा करती हुई दीपिका

दीपिका के इस बयान पर हमारे लॉजिकल संवाददाता ने अपना लॉजिक भिड़ाते हुए उनसे पूछा की आपका कैसे अमिताभ जी की संपत्ति पर अधिकार बनता है? तो जवाब में दीपिका ने तमतमाते हुए कहा कि तुम कैसे गधे (गुजरात वाले) हो? क्या तुम्हे पता नहीं की पीकू फिल्म में मैं उनकी बेटी थी। दीपिका ने कहा कि पीकू में बाबा (अमिताभ जी) की सेवा का उन्होंने मुझे ये सिला दिया है। अपनी आँखों में आंसू भरते हुए दीपिका ने कहा, “पीकू में मैंने जन्म से ही बाबा का कॉन्स्टिपेशन झेला है। मैं घंटों डाइनिंग टेबल पर भूखी बैठी रहती थी और वो बाथरूम में मोशन का इन्तजार करते रहते थे। बाबा की वजह से मैंने कई सालों तक फास्ट फूड नहीं खाया जिसके चलते मेरा फिगर ना चाहते हुए भी जीरो हो गया।

बाबा के द्वारा रातों में छोड़ी जाने वाली गर्म हवाएं और सारी-सारी रात जाग कर पेट की मरोड़ो का इलाज, क्या-क्या नहीं सहा मैंने। यहाँ तक कि इमरान के इतने लाइन मारने के बाद भी मैं बाबा की वजह से उससे शादी नहीं कर पाई।”

दीपिका ने अपनी दुःख भरी कहानी सुनाते हुए आगे कहा कि उन्हें उम्मीद थी की पीकू में बाबा उन्हें कलकत्ता वाला मकान वसीयत में देंगे, लेकिन वो भी उन्होंने चाचा-चाची को दे दिया। मुम्बई के तीन बंगलों जलसा, प्रतीक्षा और जनक में से कोई सा भी उन्हें नहीं दिया और बाकी की संपत्ति में से भी एक पाई नहीं दी

दीपिका ने कहा कि उनके हिस्से में बाबा की कॉन्स्टिपेशन कि दवाएं भर आईं हैं जिससे वह बहुत दुखी हैं और वह अमित जी के इस अन्याय के खिलाफ सेंसर बोर्ड में अपील करेंगी।