Saturday, 21st October, 2017

अब सोना चांदी छोड़, तुअर दाल की तस्करी करेंगे स्मगलर: कुख्यात स्मगलर लायन का ऐलान

19, Oct 2015 By Pagla Ghoda

मोना डार्लिंग| तुम्हारे अगले जन्मदिन पर तुम्हे एक प्रीमियम क्वालिटी तुअर दाल का सुंदर हार मिलेगा! हॅपी?
मोना डार्लिंग| तुम्हारे अगले जन्मदिन पर तुम्हे एक प्रीमियम क्वालिटी तुअर दाल का सुंदर हार मिलेगा! हॅपी?

मुंबई: तुअर दाल के बढ़ते दामों से जहाँ जन साधारण की जेबें टाइट हो रही हैं वहीँ स्मगलरों को नए धंधे शुरू करने की प्रेरणा भी मिल रही है| कुख्यात स्मगलर LION ने एक ऑनलाइन पत्रिका को दिए गए इंटरव्यू में कहा है के अब सोना चांदी की स्मगलिंग छोड़ कई बड़े स्मगलर तुअर दाल की स्मगलिंग करने का मन बना रहे हैं| स्वयं LION के शब्दों में – “मैंने कल जब अपनी सेक्रेटरी मोना डार्लिंग से कहा, मोना जाओ ले आओ सोना, तो सोना की बजाय मोना अपनी माँ के हाथों की बनी तुअर दाल और चपातियाँ ले आई| माँ के हाथ के बने खाने को देखकर पहले तो मेरी आँखों में भी आंसू आ गए पर उसके बाद मुझे ये समझ आया के अब सोना चांदी की तस्करी में कुछ नहीं रखा, अब तुअर दाल की तस्करी करनी होगी| मैंने उसी समय अपने आदमी रोबर्ट को सारे सोने चांदी के स्टॉक को को तुअर दाल में बदल देने का आर्डर दिया|”

LION के सहयोगी रोबर्ट ने भी इस विषय पर और प्रकाश डाला| उन्होंने बताया, “अपन ने जाके मार्किट से पूरा तुअर दाल क्विंटल बाई क्विंटल उठा के बॉस का सीक्रेट अंडरग्राउंड गोदाम में छिपा दिया| अभी जैसे ही अपन देखेगा के प्राइस बढ़ गेयला है, अपन पूरा स्टॉक मार्किट में निकाल के बहुत प्रॉफिट बनायेंगा| उसिच प्रॉफिट से अपन और तुअर दाल खरीद लेगा| सोना इस आउट, तुअर इस इन बिज़नेस|”

जहाँ LION के इस ऐलान से अंडरवर्ल्ड में अफरातफरी मची हुई है, वहीँ कुछ रिटायर्ड स्मगलर LION के इस फैसले को समाज के हित में उठाया गया कदम भी बता रहे हैं| अपने समय के जाने माने क्रिमिनल शाकाल जो की आजकल अपनी पूरी फैमिली के साथ US में सेटल्ड हैं उन्होंने एक टीवी चैनल को वीडियो कांफ्रेंस द्वारा कांटेक्ट करके LION को उनके ऐलान के लिए खुली बधाई दी है| अपने अनोखे अंदाज़ में उन्होंने अनोखे गंजे सर पर हाथ फिराते हुए कहा – “देखिये जमाखोरी तो सभी लोग करते हैं| तुअर दाल की भी कर ही रहे हैं| लेकिन LION को मैं पर्सनली जानता हूँ| वो धंधा भले ही स्मगलिंग का करते हों पर पूरा टैक्स ईमानदारी से भरते हैं| तुअर दाल के जमाखोरों से मैं कमाए गए मुनाफे पर टैक्स भरने की उम्मीद भी नहीं रखता| उस हिसाब से LION का ये कदम सराहनीय है|”