Monday, 26th June, 2017

प्रधानमंत्री के सफाई अभियान को असफल करने के लिए एकजुट हुए सभी विरोधी, शुरू किया लोटा अभियान

02, Oct 2014 By DarrKeAage

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने गांधी जयंती के अवसर पर “स्वच्छत्ता अभियान” की शुरुआत की। श्री मोदी ने पूरे देश को २०१९ तक पूरी तरह से स्वच्छ बनाने का बीड़ा उठाया है। इस अभियान की शुरुआत प्रधानमंत्री जी ने खुद सड़कों पर झाड़ू लगा कर की।

लोटा अभियान की शुरुआत करता युवक !!
लोटा अभियान की शुरुआत करता युवक !!

१५ अगस्त, स्वतंत्रता दिवस, के दिन श्री मोदी ने इस अभियान की घोषणा लाल किले से अपने भाषण में की थी। मोदी के इस घोषणा के साथ ही सभी विरोधी दल एकजुट हो गए और इस अभियान को असफल बनाने की साजिश में लग गए। अपने नाम को गुप्त रखने की शर्त पर हमें एक नेता ने अपने प्लान का पूरा ब्यौरा दिया। प्लान के मुताबिक सैकड़ों की तादाद में कई नेता अपने लोटे लेकर शौच करने की मंशा से सुबह-सुबह ही सड़कों पर निकल जायेंगे। इस अभियान को “लोटा अभियान” का नाम दिया गया है।

गौरतलब है की इस अभियान को सफल बनाने के लिए कई लोगों को इंटरव्यू लेने के बाद हायर किया गया है। कई लोगो को दूर के शहरों से भी बुलाया गया है। इनमे से एक युवक पेटूराम ने हमारे संवाददाता से बात करते हुए कहा की तय दिन से पहले की रात को उन्हें जमकर खाना खिलाया गया। कुछ लोगों को तो जमालगोटा की गोली भी खिलाई गयी ताकि लोटा अभियान को सफल बनाया जा सके।

हालांकि विरोधियों के नेता श्री राहुल गांधी जी का इस अभियान में शामिल होने की सम्भावना काफी काम है। सूत्रों का मानना है की राहुल गांधी दबाव में काम करना पसंद नहीं करते। राहुल गांधी जी ने कहा – “मैं कभी दबाव में काम नहीं करूँगा, भले ही वो किसी भी तरह का दबाव क्यों न हो” । विशेषज्ञों का भी मानना है की लोटा अभियान की सफलता के लिए राहुल जी का इससे दूर रहना ही ठीक रहेगा।