NEWSWIRE

ज्ञानसिटी: आज यहा एक संवादाता सम्मेलन मे भारतीय वैज्ञानिक डॉ राजेश कटियाल ने अपने नए आविष्कार की घोषणा करके पूरी दुनिया मे तहलका मचा दिया। अपने जादुई सूट की घोषणा करते हुए, भारत सरकार के अग्रणी अनुसंधान संस्थान AHKHRI मे अपनी सेवाए दे रहे डॉ राजेश कटियाल ने दावा किया की इससे देश मे सार्वजनिक यातायात की समस्या काफी हद तक हल हो जाएगी। जादुई सूट की उपयोगिता को देखते हुए AHKHRI (AARAM HI KAAM HAI RESEARCH INSTITUTE) ने अगले पाँच सालो मे PPP (PUBLIC PRIVATE PARTNERSHIP) के माध्यम से 350000 जादुई सूट के निर्माण का लक्ष्य रखा है।

जादुई सूट के बारे मे बताते हुए  डॉ राजेश ने कहा ही, “अक्सर जब भी मै अपनी कार से किसी बस स्टॉप के पास से गुजरता था। वहा पर एक – दो घंटे से बस के लिए इंतज़ार कर रहे लोगो की भीड़ को देखकर मेरा मन अक्सर दुखी हो जाता था। इतना दुखी तो मै शर्मा जी की नयी मर्सिडीस देखकर भी नहीं हुआ था। एक दिन, ऑफिस मे अपने चिपकू चमचो के साथ बैठे हुए ख्याल आया की अगर वो लोग भी बस के साथ इसी तरह चिपक जाए जाए जिस तरह ये लोग मुझसे चिपके हुए है तो इनकी तरह उन लोगो का भी बेड़ा पार हो जाएगा, मतलब की उनको अगली बस का इंतज़ार नहीं करना पड़ेगा। फिर कई दिनो की मेहनत के बाद मैंने एक ऐसा सूट बनाया जिसको पहनने वाला एक बटन दबाकर बस से चिपक सकता है। वही बटन दबाकर अलग हो सकता है।“

कुछ पत्रकारो द्वारा सूट की उपयोगिता पर संदेह जताने पर, डॉ कटियाल ने संदेह दूर करने के लिए एक Power Point Presentation दिया। Presentation से पहले डॉ कटियाल ने दावा किया की सारी Slides खुद ने ही बनाई है। पेश है Presentation के मुख्य अंश:

1॰ वर्तमान परिस्थिति

2॰ पेश है जादुई सूट

 

3. जादुई सूट की उपयोगिता

 

 

डॉ राजेश कटियाल के अनुसार बस या ट्रेन पर चिपके हुए लोग, उस दौरान मोबाइल पर गेम खेल सकते है या फिर POWER NAP भी ले सकते है या अपनी गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड से बात भी कर सकते है। जादुई सूट से पहले ये सोचना  भी मुश्किल था।

Presentation के बाद, जी मचलने और उल्टी के शिकायत के बाद कुछ पत्रकारो को नजदीकी अस्पताल मे भर्ती करवाया गया। वही कुछ पत्रकारो को मानसिक संतुलन खोने के कारण नौकरी से निकाल दिया गया है और बचे हुए पत्रकारो ने फेकिंग न्यूज़ को अपना Resume फॉरवर्ड किया है।

वही आकाश टेबलेट फ़ेम कपिल सिब्बल ने इसे आकाश टेबलेट के बाद यूपीए की एक ओर तकनीकी उपलब्धि करार दिया है। एक ओर संवादाता सम्मेलन मे मायावती, लालू प्रसाद यादव और मुलायम सिंह यादव ने जादुई सूट के वितरण मे दलित और पिछड़ी जातियो के लिए आरक्षण की मांग की है। बीजेपी ने इसे महंगाई से आम जनता का ध्यान हटाने के लिए उठाया गया एक ओर कदम बताया।

Disclaimer: This article has NOT been edited or written by the Faking News editorial team for publication as a mainstream article. This is a user generated content, and could be unusually better or worse in quality than an article published on the mainstream Faking News website. You too can write your own news report on My Faking News

Report filed under:

Hindi


One Response to “भारतीय वैज्ञानिक ने किया अनोखे जादुई सूट का आविष्कार”

  1. ” सहसा पानी की एक बूँद के लिए ” पढ़े प्यार की बात और भी बहुत कुछ Online.

    Reply

Leave a Reply